Lootera police arrested in 5 hours, case of aunt attacked and robbed

रायपुर. छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में बायसन का शिकार करने के आरोप में वन विभाग ने नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि वन विभाग को कवर्धा वनमंडल के अंतर्गत भारेमदेव वन्य प्राणी अभयारण्य चिल्फी परिक्षेत्र में 29 जुलाई को मृत एक नर बायसन के प्रकरण को पांच दिनों में सुलझाने में बड़ी कामयाबी मिली है। शिकार में शामिल कुमान और नंदनी गांव के सभी नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अधिकारियों ने बताया वन विभाग को नंदनी टोला गांव के जंगल में बायसन के शिकार की जानकारी मिली थी। जानकारी के बाद गांव के आसपास छानबीन की गई तब जानकारी मिली कि बायसन को करंट से मारा गया है। उन्होंने बताया कि बाद में अचानकमार बाघ संरक्षित क्षेत्र में खोजी कुत्तों की मदद से शिकारियों की तलाश शुरू की गई। वन विभाग ने इस मामले में नंदनी और कुमान गांव से नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने बताया कि आरोपियों ने स्वीकार किया है कि वन्यप्राणी बायसन की अवैध शिकार की नीयत से जीआई तार के करंट का उपयोग कर घटना को अंजाम दिया गया था। उन्होंने बताया कि आरोपियों के खिलाफ वन्य प्राणी (संरक्षण) अधिनियम तथा भारतीय वन अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। सभी नौ आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।