CWC अध्यक्ष का लडकियों को लेकर विवादित बयान, कहा-लिव-इन रहती हैं, फिर रेप का मामला दर्ज करवाती हैं

रायपुर: छत्तीसगढ़ महिला आयोग (Chhattisgarh Women’s Commission) की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक (Dr. Kiranmayi Nayak) ने लड़कियों और महिलाओं को लेकर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि, “ज्यादातर बलात्कार के मामलों को लड़कियाँ खुद अपनी मर्जी से लिवइन में रहती हैं कर जब रिश्ता बिगड़ जाता है तो रेप का मामला दर्ज करवाती हैं.” गुरुवार को राजधानी रायपुर में महिला उत्पीड़न को लेकर आयोजित प्रेस वार्ता में यह बात कही. 

सोच समझकर ले निर्णय 

डॉ. किरणमयी ने कहा, “यदि एक विवाहित व्यक्ति उन्हें फंसता  है, तो लड़कियों को यह देखना होगा कि वह तुमसे झूठ बोल रहा है, वह तुम्हे जीवित रहने में मदद नहीं करेगा. इस दौरान पुलिस से संपर्क करना होगाऔर कोर्ट कचहरी का चक्कर लगाना पड़ेगा। ज्यादातर मामलों में, उनके बीच एक संबंध, लिव-इन और फिर बलात्कार के लिए एफआईआर दर्ज की जाती है।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं आपसे निवेदन करना चाहता हूं कि आप पहले अपने रिश्ते और स्थिति को समझें। यदि आप ऐसे किसी रिश्ते में प्रवेश करते हैं, तो परिणाम हमेशा बुरा होगा।”

लडकियों में नया चलन 18 वर्ष में करती है शादी 

छत्तीसगढ़ आयोग प्रमुख ने कहा, “एक नया चलन है। जैसे ही लड़कियां 18 साल की होती हैं, वे शादी कर लेती हैं और फिर एक बच्चे के साथ हमारे पास आती हैं। मैं उनसे अपील करना चाहती हूं कि वे पहले शिक्षित हों, जिम्मेदार बनें और यह सुनिश्चित करें कि जिस व्यक्ति से उनकी शादी हो रही है, वह भी जिम्मेदार है।”