सुरक्षा और प्रभाव को लेकर चिंतित नहीं, लगवाउंगी कोविड-19 टीका: किरन मजूमदार शॉ

बेंगलुरु: जैव-प्रौद्योगिकी (Biotechnology) क्षेत्र की मशहूर हस्ती किरन मजूमदार शॉ (Kiran Mazumdar Shaw) ने बुधवार को कहा कि भले ही कोविड-19 (Covid-19) टीके (Vaccine) की प्रभावकारिता फिलहाल तय नहीं हो, लेकिन वह टीका लगवाने के लिये तैयार हैं। बेंगलुरु स्थित प्रमुख जैव-प्रौद्योगिकी कंपनी ‘बायोकॉन’ (Biotechnology company ‘Biocon’) की कार्यकारी अध्यक्ष शॉ ने टीके को तैयार करने से लेकर मंजूरी मिलने तक की प्रक्रिया को अप्रत्याशित गति से पूरा करने का समर्थन किया।

शॉ ने ‘पीटीआई-भाषा’ के साथ साक्षात्कार में कहा, ”यह अभूतपूर्व महामारी है और यह असाधारण कदम उठाने का असाधारण समय है।” उन्होंने कहा कि नियामक के स्तर पर आकलन और मंजूरी की प्रक्रिया तेज किेए जाने की आवश्यकता है।

गौरतलब है कि भारत बायोटेक, भारतीय सीरम संस्थान तथा फाइजर ने भारतीय औषधि महानियंत्रक से आपात स्थिति में अपने कोविड-19 टीकों के इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है।

शॉ ने सुरक्षा तथा प्रभाव की चिंता किये बिना टीका लगवाने की बात कही। उन्होंने कहा, ”फिलहाल एक आम आदमी की हैसियत से मैं (कोविड-19 टीके से) मिलने वाली सुरक्षा तथा प्रभावकारिता के बारे में चिंतित नहीं हूं। मैं इस बात को लेकर अधिक चिंतित हूं कि क्या यह लंबे समय तक मुझे सुरक्षा प्रदान कर पाएगा।”

उन्होंने कहा ”अगर कोई मुझसे पूछता है कि क्या मैं टीका लगवाउंगी तो मेरा जवाब होगा-हां, क्योंकि चाहे ये कैसा भी हो अंततः इससे मैं (कोविड-19 से) खुद को सुरक्षित कर पाउंगी।” शॉ को फोर्ब्स पत्रिका ने हाल ही में जारी अपनी दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची में शामिल किया है।(एजेंसी)