अर्थव्यवस्था और विनिर्माण क्षेत्र में पड़नेवाले असर पर चर्चा करेंगे उद्यमी शशिकांत चौधरी

नागपुर. कोरोना वायरस (COVID-19) के प्रसार से दुनिया भर में अशांति, मनस्ताप, दुःख और बेसहरापन फैला है। इस वैश्विक महामारी से भारतीय अर्थव्यवस्था और विनिर्माण क्षेत्र में पड़नेवाले असर पर गहन चर्चा एवं सामाजिक ज्ञान का विश्लेषण हेतु मशहुर उद्यमी शशिकांत चौधरी आगामी 30 अप्रैल 2020 को नवभारत वेबिनार के माध्यम से जनता को संबोधित करेंगे।

महशूर उद्यमियों में से एक, शशिकांत चौधरी 
नागपुर एंजल के को-फाउंडर, ग्लोबल लॉजिक प्रबंधक निदेशक और नागपुर शहर के मशहूर उद्यमियों, इन्वेस्टरों में से एक हैं शशिकांत चौधरी। ग्लोबल लॉजिक, भारत में 4000 से ज्यादा इंजीनियरों का प्रबंधन करता है। यह कंपनी आउटसोर्स्ड प्रोडक्ट डेवलपमेंट के स्पेस में विश्वविख्यात है। Google, Linkedin, Intel, Microsoft, AT&T, Verizon, Samsung, Boing, Sandisk आदि जैसी 250 से ज्यादा कंपनियों को ग्लोबल लॉजिक ने अपनी सेवाएं प्रदान की है। ग्लोबल लॉजिक दुनिया की टॉप 100 कंपनियों में से एक है। जिसकी वैल्यू आज 3 बिलियन डॉलर हैं।

श्री चौधरी को सीनियर मॅनेजमेंट और एकेडेमिक्स में 29 साल का अनुभव है। उन्होंने 5 आईटी कंपनियों की स्थापना की है। भारत के IT मैप पर नागपुर को लाने में उनका बहुत बड़ा योगदान रहा है। मोबाइल टेक्नोलॉजी भारतीय बाजार में जल्दी ही आयी थी। लेकिन इस टेक्नोलॉजी को वर्ष 2002-2003 में सबसे पहले नागपुर लाने में श्री चौधरी का बड़ा हाथ रहा हैं।

वहीं श्री चौधरी विदर्भ में पिछले 10 सालों से युथ और स्टूडेंट्स स्टार्टअप्स में इन्वेस्ट कर रहे हैं। उनका सबसे ज्यादा ध्यान नागपुर में ही हैं। अभी तक उन्होंने 26 स्टार्टअप्स में इन्वेस्ट किया हैं। 

हाल ही में श्री चौधरी को ग्लोबल नागपुर अवार्ड इंडिविजुअल प्रोफेशनल (आईटी) से सम्मानित किया गया, जो नागपुर विकास और वैश्विक शहर बनने की दिशा में सुधार के लिए व्यक्तियों के योगदान को मान्यता देता है। 

श्री चौधरी ने लेम्बेंट टेक्नोलॉजीज को मोबाइल टेक्नोलॉजी, ADCC R&C, ADCC इंफोकैड, Eforum सिस्टम्स, कंप्यूटर मीडिया में अग्रणी कंपनी बना दिया। उन्होंने वाईसीसीई में कंप्यूटर प्रौद्योगिकी विभाग की स्थापना की और अंततः नेतृत्व किया। वे Globallogic Inc. USA के बोर्ड सदस्य थे। वह VNIT के गवर्निंग बोर्ड के सदस्य और राष्ट्रीय महत्व के एक प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान YCMOU के एक सदस्य थे। वह VNITनागपुर के पूर्व छात्र संघ के अध्यक्ष हैं। वह विभिन्न तकनीकी कॉलेजों के निदेशक / शैक्षणिक परिषद के सदस्य हैं। इसके अलावा श्री चौधरी वन फाउंडेशन फॉर यूथ प्रॉस्पेरिटी के सह-संस्थापक थे। वह चार्टर्ड और TIe नागपुर के GC सदस्य हैं। 

विशेषता: श्री चौधरी को लोकेशन बेस सर्विसेस, प्रोडक्ट इंजीनियरिंग, विलय और अधिग्रहण के साथ मोबाइल बिजनेस लैंडस्केप की गहन समझ है।