Why is it difficult for 'Daddy Army-csk -to win the trophy-sunil-gavaskar

– विनय कुमार

आईपीएल टी २० बेहद लोकप्रिय टूर्नामेंट है. करोड़ों क्रिकेट प्रेमियों को एक सीज़न ख़त्म होने के बाद नए सीज़न का इंतज़ार रहता है. यु इ ी में हो रहा टूर्नामेंट आईपीएल का १३ वां सीज़न है.आईपीएल की सबसे बड़ी खासियत ये है किइसमें दुनिया भर के दिग्गज खिलाड़ी आते हैं, चाहे वो बल्लेबाज़ हो या गेंदबाज़ या विकेटकीपर. हाँ, इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि आईपीएल सही मायने में बल्लेबाज़ों का खेल है. क्योंकि, जितना बड़ा स्कोर जीतने कि संभावना उतनी ही ज़्यादा.

लेकिन, आईपीएल के इतिहास में ऐसा कई बार हुआ है कि एक भी विकेट गंवाए बिना टीम ने 10 विकेट से जीत हासिल की और विरोधी टीम शिकस्त दी.

आइये जानते हैं उन 3 टीम के बारे में जिन्होंने बिना कोई विकेट गंवाए मैचों में विशाल स्कोर का पीछा किया है.

3. मुंबई इंडियंस vs  राजस्थान रॉयल्स:

2012 में हुए आईपीएल (IPL-T20) के 5 वें सीजन में जयपुर में राजस्थान रॉयल्स (RR) और मुंबई इंडियंस (MI) के बीच भिड़ंत हुई थी. राजस्थान रॉयल्स (RR) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर मुंबई के सामने 163 रनों का लक्ष्य रखा था. शेन वॉटसन ने सबसे ज्यादा 45 रनों का पारी खेली थी. दुसरे इनिंग में इस बड़े स्कोर के जवाब में उतरी मुंबई इंडियंस ने सिर्फ 18 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए टारगेट हासिल कर लिया था. इस जीत का सेहरा मुंबई इंडियंस (MI) के ओपनर्स सचिन तेंदुलकर और ड्वेन स्मिथ के सर सजा. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने 51 गेंदों पर 58 रनों की नाबाद पारी खेली और ड्वेन स्मिथ ने 58 गेंदों पर नाबाद 87 रन बनाए थे. बिना कोई विकेट के नुक्सान पर मुंबई इंडियंस ये मैच जीत चुकी थी.

2. चेन्नई सुपर किंग्स vs किंग इलेवन पंजाब:

सीज़न 13 यानी आईपीएल-2020 में 4 अक्टूबर के मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के सलामी बल्लेबाज़ शेन वॉटसन और फाफ डू प्लेसिस कि जोड़ी ने विस्फोटक पारी खेलते हुए बिना किसी विकेट के नुक्सान के 178 रन के किंग्स इलेवन पंजाब कि तरफ से दिए गए विशाल स्कोर को नाप लिया था. CSK ने इस मैच से पहले 3 मैच गवांए थे, लेकिन उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ जबरदस्त वापसी की. किंग्स इलेवन पंजाब ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट खोकर 20 ओवर में 178 रन बनाए थे. इस चुनौती का जवाब देने पिच पर उत्तरी सीएसके के लिए ओपनिंग जोड़ी शेन वाॅटसन और फाफ डु प्लेसिस ने आतिशी बल्लेबाजी करते हुए बिना नुकसान के टीम को जीत दिला दी. डु प्लेसिस ने 53 गेंदों पर 87 रन बनाए और शेन वॉटसन ने 53 गेंदों में 83 रन ठोके थे. यह चेन्नई सुपर किंग्स टीम की अब तक की सबसे बड़ी साझेदारी भी रही.

1. कोलकाता नाइट राइडर्स vs गुजरात लायंस:

आईपीएल (IPL T20) सीज़न 10 यानी आईपीएल-2017 का एक मैच भी इस बात की मिसाल है. कोलकाता नाईट राइडर्स (KKR) भी इन टीमों में से एक है जिसने बिना कोई विकेट गंवाए मैच पर कब्ज़ा किया. 2017 में गुजरात लायंस (GL) को कोलकाता नाईट राइडर्स (KKR) ने 10 विकेट धुल चटाई थी. गुजरात लायंस ने सुरेश रैना की कप्तानी में पहले बल्लेबाजी की थी और कोलकाता नाइट राइडर्स को जीत के लिए 184 रन का लक्ष्य दिया था. रैना ने 68 रन बनाया था. 183 रन के बड़े स्कोर का पीछा करने उतरी कोलकाता की टीम ने बिना कोई विकेट खोए मैच जीत लिया था. KKR के सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए नाबाद 184 रन बनाए और अपनी टीम को 14.5 ओवर में ही लक्ष्य तक पहुंचा दिया था. KKR के सलामी बल्लेबाज क्रिस लिन 41 गेंदों पर 93 और गौतम गंभीर 48 गेंदों में 76 रन बनाकर नॉट आउट रहे.