at-34-my-days-are-numbered-david warner-says-focussing-on-disciplined-batting

उन्होंने साथ ही कहा कि आगामी श्रृंखला में वह भारतीय खिलाड़ियों पर छींटाकशी का प्रयास करने की जगह उनकी अनदेखी करेंगे।

सिडनी. आस्ट्रेलिया के आक्रामक सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (David Warner) ने सोमवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनके ‘गिने-चुने दिन बचे हैं’ और वह अपनी आक्रामकता पर नियंत्रण रखने का रवैया बरकार रखेंगे। उन्होंने साथ ही कहा कि आगामी श्रृंखला में वह भारतीय खिलाड़ियों पर छींटाकशी का प्रयास करने की जगह उनकी अनदेखी करेंगे।

श्रृंखला के आधिकारिक प्रसारणकर्ता सोनी की आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में वार्नर ने पिछले कुछ साल में एक बल्लेबाज के रूप में अपनी प्रगति पर भी बात की। इस आक्रामक सलामी बल्लेबाज ने 27 नवंबर से भारत के खिलाफ शुरू हो रही सीमित ओवरों की श्रृंखला से पहले कहा, ‘‘मैं हाल में 34 बरस का हुआ हूं इसलिए 30 बरस की उम्र की तुलना में मेरे दिन गिने-चुने बचे हैं। बेशक इससे जोखिम जुड़ा है लेकिन साथ ही समझदारी भरा क्रिकेट भी।”

मैदान पर कई बार भिड़ंत का हिस्सा रहे वार्नर (David Warner) ने कहा कि अगर भारतीय खिलाड़ी उनके साथ छींटाकशी करने का प्रयास करेंगे तो वह इसकी अनदेखी करने को प्राथमिकता देंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं इसका हिस्सा रहा हूं। इसमें (छींटाकशी) शामिल होने का प्रयास करना, उन्हें भी इसी तरह खेलना पसंद है। हमने समय के साथ सीखा है कि इसमें शामिल नहीं रहें। संभवत: इसकी अनदेखी करके इसके असर को उलट करने का प्रयास कर सकते हैं, बोर्ड पर बड़ा स्कोर बनाकर और अपने बल्ले का उपयोग करके इसका इस्तेमाल उनके खिलाफ करके।” वार्नर ने कहा कि वह अब सीमित जोखिम उठाते हैं और उनका ध्यान अच्छे स्ट्राइक रेट के साथ खेलने पर है।

उन्होंने कहा, ‘‘ अगर 50 ओवर की बात करें तो मेरा ध्यान अच्छी शुरुआत और बीच के ओवर में सीमित जोखिम उठाने पर है। मुझे यह सुनिश्चित करना है कि मैं अधिक से अधिक समय बल्लेबाजी करूं और साथ ही मेरा स्ट्राइक रेट भी अच्छा रहे। मुझे लगता है कि पिछला साल संभव: टेस्ट क्रिकेट में भी मेरा सबसे अनुशासित साल रहा।”

एकदिवसीय और टी20 श्रृंखला में फॉर्म में चल रहे सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के बिना उतर रही भारतीय टीम के संदर्भ में वार्नर ने कहा कि उनकी भरपाई करना आसान नहीं होगा लेकिन विराट कोहली की टीम में इससे निपटने की क्षमता है। उन्होंने कहा ,‘‘बेशक वह उनकी टीम का अहम खिलाड़ी है और उन्हें उसकी कमी खलेगी लेकिन उनके पास लोकेश राहुल, शिखर धवन और मयंक अग्रवाल जैसे खिलाड़ी हैं जो काफी अच्छी फॉर्म में हैं। ये खिलाड़ी आईपीएल में खेले थे इसलिए आपके पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो अच्छी लय में हैं।’

भारतीय कप्तान कोहली 17 दिसंबर से एडीलेड में शुरू हो रहे पहले टेस्ट के बाद अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए भारत लौटेंगे और वार्नर ने इस फैसले की सराहना की। वार्नर ने भारतीय टेस्ट टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे की भी सराहना की और कहा कि वह धैर्य और संतुलित रवैये के साथ खेलते हैं।

कोहली के जाने के बाद रहाणे के टीम की अगुआई करने की उम्मीद है और ऐसे में टेस्ट मुकाबले में क्या अलग होगा यह पूछने पर वार्नर ने कहा, ‘‘वह धैर्यवान है और काफी संतुलित रवैये के साथ खेलता है। क्रिकेट को लेकर उसकी समझ काफी अच्छी है।” उन्होंन कहा, ‘‘भारत के नजरिये से यह शानदार है कि आपके पास चार नहीं तो कम से कम तीन काफी अच्छे खिलाड़ी हैं जो कभी भी टीम की कप्तानी कर सकते हैं। वह अपने स्वभाव की तरह धैर्य और संतुलित रवैया लेकर आएगा।” (एजेंसी)