Virat Kohli and Hardik Pandya

-विनय कुमार

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज (IND-AUS ODI SERIES, 2020) के दूसरे और अहम भिड़ंत में एक बार फिर  भारतीय गेंदबाज फिसड्डी साबित हुए। 27 नवंबर यानी बीते शुक्रवार के बाद रविवार, 29 नवंबर को एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने टीम इंडिया के बोलर्स को जमकर धोया। कंगारुओं की टीम ने ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत की विराट-सेना को सिडनी (Sydney ODI) में खेले गए इस मैच में भी हरा दिया और सीरीज में लगातार दूसरे मैच में जीत हासिल करके 3 मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त बना ली। ऑस्ट्रेलिया की टीम ने रविवार को पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 4 विकेट खोकर 50 ओवर में 389 रन पीट डाले और भारत को जीत के लिए 390 रनों का लक्ष्य दिया।

सीरीज के दूसरे और सबसे अहम मैच में सभी भारतीय गेंदबाज बेहद महंगे साबित हुए। टीम इंडिया सिर्फ 4 विकेट ही हासिल कर सकी। 4 विकेटों में से 1 विकेट रन आउट से मिला। मोहम्मद शमी (Mohammed Shami), जसप्रीत बुमराह (Jaspreet Bumrah)और हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को एक-एक विकेट हासिल हुआ। रविवार के मैच में भारत के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने अपना करियर दांव पर लगा दिया।

क्रिकेट प्रेमियों ने मैच की तस्वीरें साफ़ देखी होंगी कि, टीम इंडिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाजों को जोड़ी  डेविड वॉर्नर (David Warner) और कप्तान एरॉन फिंच (Aaron Finch) ने पहले विकेट के लिये 142 रनों की बेहतरीन साझेदारी की। इसके बाद भारत को 2 लगातार विकेट हासिल हुए। लेकिन, मार्नस लाबुशाने (Marnus Labuschagne) और स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने भारतीय गेंदबाजों को धुनाई शुरु कर दी और तीसरे विकेट के लिये 136 रनों की शानदार साझेदारी की। स्टीव स्मिथ ने एक बार फिर सिर्फ़ 62 गेंदों में अपना शतक (ODI CENTURY) पूरा किया। बीते शुक्रवार, 27 नवंबर को भी स्टीव स्मिथ ने 62 गेंदों में शतक ठोका था।

बुरी तरह पिट रहे अपने गेंदबाजों की हालत देखते हुए टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की इस मैच में छठे गेंदबाज की कमी महसूस हुई और ऐन वक्त पर हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) सामने आए। ग़ौरतलब है कि, हार्दिक बीते कुछ महीनों से पीठ की चोट से जूझ रहे हैं। यही वजह थी कि हार्दिक वनडे सीरीज में बतौर बल्लेबाज खेल रहे थे, गेंदबाजी नहीं कर रहे थे। उनके फिजियोथेरपिस्ट ने सलाह दी है कि हार्दिक पंड्या करीब एक साल तक बोलिंग ना करें तो बेहतर है।

लेकिन, हार्दिक पंड्या ने अपने कप्तान के आदेश पर टीम इंडिया के लिए अपने करियर को दांव पर लगा दिया और उन्होंने रविवार के मैच में 4 ओवर की गेंदबाजी की। उन्होंने 4 ओवर ने 6 की औसत से सिर्फ़ 24 रन दिए और स्टीव स्मिथ (Steve Smith) का विकेट भी झटका।

हार्दिक पंड्या के लिए इतना ख़तरनाक फैसला लेने वाले कप्तान विराट कोहली सवालों के घेरे में आ गए। हार्दिक को लेकर कोहली ने कहा, “वह फिट हैं, गेंदबाजी करके उन्हें काफी अच्छा महसूस हुआ। सच तो यह है कि हम उनसे सिर्फ कुछ ही ओवर गेंदबाजी कराना चाहते थे। लेकिन जब उसे अच्छा महसूस हुआ, तो उसने आगे गेंदबाजी करना जारी रखा। वह गेंदबाजी को आगे ले गये और उनकी ऑफ़-कटर ने हमारे लिये काम किया।”

3 मैचों को वनडे सीरीज (IND-AUS ODI SERIES, 2020) का तीसरा और आखिरी मैच 2 दिसंबर को है। उम्मीद है ये आख़िरी मैच जीतकर विराट कोहली की सेना कुछ तो लाज बचाएगी।