बांग्लादेश के सीनियर ऑलराउंडर खिलाड़ी महमूदुल्लाह ने टेस्ट क्रिकेट को कहा अलविदा

    ढाका. बांग्लादेश के सीनियर हरफनमौला महमूदुल्लाह ने अचानक ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला करके सभी को चौंका दिया है जबकि एक दिन पहले ही उन्होंने हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ कैरियर की सर्वश्रेष्ठ 150 रन की पारी खेली। क्रिकबज की रिपोर्ट के अनुसार महमूदुल्लाह ने अपने साथियों को इस बारे में बताया है कि वह आगे टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते। 

    वेबसाइट ने बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के एक शीर्ष सूत्र के हवाले से कहा,‘‘महमूदुल्लाह ने बताया है कि वह आगे टेस्ट क्रिकेट और नहीं खेलना चाहता। उसने आधिकारिक तौर पर इसकी जानकारी नहीं दी। हमें देखना है कि जज्बाती तौर पर कोई गुबार तो नहीं निकाला है।” महमूदुल्लाह ने बांग्लादेश के लिये 49 टेस्ट में 31 से अधिक की औसत से 2764 रन बनाये हैं। 

    उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ 2009 में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था जिसमें वह बल्ले से नाकाम रहे लेकिन आठ विकेट लिये थे। विदेशी सरजमीं पर वह बांग्लादेश की पहली टेस्ट जीत थी। वह टी20 टीम के मौजूदा कप्तान हैं और 2015 विश्व कप में बांग्लादेश के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज रहे।