varun-chakraborty-failed-in-fitness-test-leaf-cut-from-t20-team-almost-fixed

    -विनय कुमार

    भारतीय क्रिकेट के महाकुंभ IPL TOURNAMENT के ताज़ा सीजन में बेहद सुरक्षित बायोबबल में कोरोना वायरस की एंट्री हो चुकी है। यही कारण है कि अब सीजन-14 के रद्द होने की आशंका बढ़ गई है। आज कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम के दो खिलाड़ियों वरुण चक्रवर्ती (Varun Chakraborty) और संदीप वॉरियर (Sandeep Warrior) के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर आने के बाद अहमदबाद के बायोबबल में कोरोना वायरस के संक्रमण होने की पुष्टि हो गई। आज KKR और RCB के बीच होने वाली भिडंत इसी वजह से रद्द कर दी गई। कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने दोनों खिलाड़ियों को आइसोलेशन में भेज दिया। इसके अलावा टीम के सभी खिलाड़ियों को 6 मई तक सख्त कावरंटीन में कर दिया गया है।

    ‘स्पोर्टस तक’ (Sports Tak) के मुताबिक, कोलकाता नाइट राइडर्स ने अपने सभी खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ मेंबर्स को 6 मई तक के लिए सख्त क्वारंटीन कर दिया है। इन सभी के हर दिन कोरोना टेस्टिंग की जाएगी। और अगर सभी मेंबर्स कोविड टेस्ट में नेगेटिव पाए गए तभी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (RCB) के खिलाफ 7 मई को मैच होगा।

    खबरों के मुताबिक, ‘स्पोर्टस तक’ ने दावा किया है कि अहमदाबाद में ठहरी एक और फ्रैंचाइजी टीम का कम से कम 1 खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव (Covid-19 Positive) पाया गया है। हालांकि, अभी तक उस मामले की पुष्टि नहीं हुई है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल वे खड़ा होता है कि बेहद सुरक्षित बायो-बबल में कोरोना वायरस का संक्रमण अहमदाबाद में कैसे हुआ।

    ‘स्पोर्टस तक’ के मुताबिक, बायोबबल में कोरोना वायरस के संक्रमण लाने पीछे कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की तरफ से की गई लापरवाही मुख्य वजह रही है। बीते बुधवार यानी 28 अप्रैल को KKR के शानदार स्पिनर वरुण चक्रवर्ती (Varun Chakraborty) अपने घुटने का स्कैन कराने अहमदाबाद के एक अस्पताल पहुंचे थे, जहां से वापसी के दौरान टीम फ्रैंचाइजी ने उन्हें सीधे बायोबबल में प्रवेश दे दिया। जो कि BCCI के प्रावधानों और SOP का उल्लंघन है। यही नहीं कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम ने उन्हें अगले दिन दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals DC) के खिलाफ मैच खेलने के लिए भी मैदान में उतार दिया था। इस घटना के बाद अब दिल्ली कैपिटल्स के सभी खिलाड़ियों पर भी कोरोना के संक्रमण होने का खतरा मंडरा रहा है।

    गौरतलब है कि, कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के मैनेजमेंट का इस घटना पर कहना है कि वरुण चक्रवर्ती (Varun Chakraborty) पीपीई किट पहनकर स्कैन के लिए अस्पताल गए थे। लेकिन, वापसी के दौरान BCCI के SOP का पालन नहीं करना खिलाड़ियों की सुरक्षा से की गई बड़ी लापरवाही है।

    नियमों के अनुसार, अगर कोई खिलाड़ी किसी वजह से बायोबबल से बाहर जाता है, तो उसे वापस आने के लिए फिर से 7 दिन क्वारंटीन में रहना जरूरी है। इसी नियम के कारण सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के घातक यॉर्कर किंग (Yorker King T Natrajan SRH) टी नटराजन के घुटने में चोट लगने पर SRH की टीम ने उन्हें शुरूआत में रिलीज नहीं किया और वो रिलीज किए गए तो पूरे सीजन के लिए।