धवन और पंड्या ने भारत को टी20 श्रृंखला में दिलायी जीत

सिडनी. भारत ने शिखर धवन की 36 गेंद में 52 रन की पारी के बाद हार्दिक पंड्या की आक्रामक बल्लेबाजी से रविवार को यहां दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में आस्ट्रेलिया को छह विकेट से शिकस्त देकर श्रृंखला अपने नाम की। मेहमान टीम ने इस तरह वनडे श्रृंखला में 1-2 से मिली हार का बदला चुकता किया। टीम ने घरेलू टीम द्वारा बनाये गये 195 रन के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य को दो गेंद रहते हासिल कर लिया।

भारतीय टीम ने शुक्रवार को कैनबरा में शुरूआती टी20 में 11 रन से जीत हासिल की थी। उसने श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली। भारत ने 18वें ओवर में 12 रन जुटाये जिससे टीम को अंतिम दो ओवर में जीत के लिये 25 रन की दरकार थी। पंड्या ने दो चौके लगाये जिससे अंतिम छह गेंद में जीत के लिये 14 रन चाहिए थे। इस हरफनमौला ने फिर दो छक्के जड़कर मैच भारत की झोली में डाल दिया। मैन आफ द मैच पंड्या 22 गेंद में 42 रन बनाकर नाबाद रहे।

भारत ने पहले दो ओवरों में कोई बाउंड्री नहीं लगायी। लेकिन धवन (52) और लोकेश राहुल (30) ने क्रीज पर जमने के बाद चौकों और छक्कों की बारिश कर दी। राहुल ने फ्री हिट पर एंड्रयू टाई की गेंद को एक्स्ट्रा कवर में भेजा जो भारत की पारी की पहली बाउंड्री थी। धवन ने ग्लेन मैक्सवेल पर दो बाउंड्री और एक छक्का जमाया जिससे भारतीय पारी ने लय पकड़ी। आस्ट्रेलिया ने हालांकि राहुल का विकेट लेकर भारत को पहला झटका दिया। वह मिशेल स्वेपसन को डीप प्वाइंट में आसान कैच देकर पवेलियन पहुंचे। लेकिन भारत ने पॉवरप्ले में एक विकेट पर 60 रन बनाकर अच्छी शुरूआत की। कुछ बेहतरीन शॉट जमाने वाले धवन लेग स्पिनर एडम जाम्पा की गेंद पर बल्ला छुआ बैठे और आस्ट्रेलिया ने दूसरा विकेट हासिल किया। संजू सैमसन 10 गेंद पर 15 रन बनाकर आउट हुए।

पदार्पण करने वाले डेनियल सैम्स ने विराट कोहली के रूप में बड़ा विकेट हासिल किया जिन्होंने 24 गेंद में 40 रन बनाये। इससे पहले कार्यवाहक कप्तान मैथ्यू वेड की शानदार अर्धशतकीय पारी की बदौलत आस्ट्रेलिया ने पांच विकेट पर 194 रन बनाये। भारत ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया जिसके बाद चोटिल आरोन फिंच की अनुपस्थिति में टीम की अगुआई कर रहे वेड ने 32 गेंद में 58 रन बनाये जबकि स्टीव स्मिथ ने 38 गेंद में 46 रन का योगदान दिया। मेहमानों के लिये टी नटराजन ने अपने चार ओवर में 20 रन देकर दो विकेट हासिल किये। भारत ने मध्य के ओवरों में कसी गेंदबाजी की लेकिन इसके बाद आस्ट्रेलिया ने अंतिम पांच ओवर में 62 रन जोड़ लिये। वेड ने आस्ट्रेलियाई पारी की तेज शुरूआत की। युजवेंद्र चहल को छोड़कर भारत के कम अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ उन्होंने 10 बाउंड्री लगायी और एक छक्का जड़ा। वेड ने पहले ओवर में दीपक चाहर पर तीन चौके लगाकर 13 रन जुटाये।

दूसरे ओवर में ऑफ स्पिनर वाशिंगटन सुंदर की गेंद पर उन्होंने डीप स्क्वायर लेग पर एक छक्का जमाया। फार्म में चल रहे वेड ने शारदुल ठाकुर का स्वागत बाउंड्री से किया। सुंदर ने चौथे ओवर में 15 रन दिये और फिर वेड ने ठाकुर पर 12 रन जोड़े जिससे मेजबानों ने सिडनी क्रिकेट मैदान पर छठे ओवर में 50 रन पूरे कर दिये। नटराजन को गेंदबाजी आक्रमण पर लगाया गया जिससे आस्ट्रेलिया ने डार्सी शार्ट के रूप में अपना पहला विकेट गंवाया। वेड की तेज तर्रार बल्लेबाजी जारी रही और उन्होंने चहल की गेंद पर चौका लगाकर महज 25 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। लेकिन कार्यवाहक कप्तान दिलचस्प तरीके से रन आउट हो गया।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कवर पर उनका आसान कैच छोड़ दिया था, उन्होंने दो दिन में दूसरा कैच छोड़ा है। जिससे वेड दूसरे छोर पर भागने लगे लेकिन स्टीव स्मिथ ने ऐसा नहीं किया। जिससे कोहली ने विकेटकीपर लोकेश राहुल की ओर गेंद फेंकी और वेड रन आउट हो गये। इससे पहले हार्दिक पंड्या ने भी वेड का कैच छोड़ा था। स्मिथ और ग्लेन मैक्सवेल ने चौके और छक्के जमाते हुए पारी को आगे बढ़ाया। मैक्सवेल ने चहल पर दो छक्के जमाये लेकिन शारदुल ठाकुर का शिकार हो गये। इसके बाद मोइजेस हेनरिक्स (26 रन) क्रीज पर थे, उन्होंने और स्मिथ ने आउट होने से पहले यही लय कायम रखी। स्मिथ 18वें ओवर में चहल का शिकार हुए जबकि अगले ओवर में हेनरिक्स भी नटराजन की गेंद पर पवेलियन लौट गये। अंत में मार्कस स्टोइनिस ने सात गेंद में नाबाद 16 और डेनियल सैम्स ने तीन गेंद में नाबाद आठ रन बनाये।