our-bowlers-had-not-much-options-it-was-their-skills-and-execution-hardik-pandya

    -विनय कुमार

    भारतीय टीम के धुरंधर ऑल राउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) हाल के शानदार अंतरराष्ट्रीय श्रृंखलाओं के बाद दुनिया की सबसे मशहूर T20 लीग IPL T20 2021 में खेलने के लिए तैयार हैं। पिछले साल हुई पीठ की सर्जरी से उबरने के बाद हार्दिक पांड्या ने IPL के मैदान पर सिर्फ बल्ला संभाला था गेंदबाजी से उन्होंने परहेज़ किया था। लेकिन, अबकी सीज़न IPL 2021 में ‘मुंबई इंडियंस’ (Mumbai Indians) का ये धाकड़ ऑल राउंडर अपनी घातक गेंदबाजी से बल्लेबाजों की दांत खट्टे करते नजर आएंगे।

    पीठ की सर्जरी के बाद अपनी बेहतरीन वापसी और बेहतर फिटनेस को लेकर बल्लातोड़ बल्लेबाज हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने आज राज़ खोला कि आखिर वो कैसे मेंटली फिट रहते हैं।

    ‘मुंबई इंडियंस’ (Mumbai Indians) के ऑफिशल ट्विटर हैंडल पर शेयर किए गए एक वीडियो में हार्दिक पांड्या ने मेंटल फिटनेस की अहमियत के बारे में लिखा कि इंटरनेशनल क्रिकेट खेलते हुए उन्हें मानसिक स्वास्थ्य की अहमियत का पता चला और इसे फिट रखने में उनकी फैमिली की महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है। 

    हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya all rounder Mumbai Indians) ने मेंटल हेल्थ पर बात करते हुए वीडियो में कहा, “जब मैंने प्रोफेशनली इंटरनेशनल क्रिकेट खेलना शुरू किया तो मुझे अहसास हुआ कि आपकी जिंदगी में अलग तरह का दबाव शामिल हो जाता है। यकीनन लाइफ में काफी बदलाव आते हैं। लेकिन, निजी तौर पर आपको इन चीजों से उबरने की जरूरत होती है। इसलिए मुझे अहसास हुआ कि मेरे लिए मेंटल हेल्थ (Hardik Pandya on mental health) भी महत्त्वपूर्ण है। मेरे परिवार ने इसे बनाए रखने और दबाव से उबरने में बड़ी भूमिका निभाई है। यही कारण है कि आज मैं इतना टाइट शेड्यूल होने के बावजूद ठीक तरीके से अपनी भूमिका निभा सक रहा हूं।”

    आपको ये बात जरूर याद होगी कि, क्रिकेट खिलाड़ियों में मेंटल हेल्थ की बात पहली बार तब सामने आई थी, जब ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने मेंटल हेल्थ से उबरने के लिए खेल से ब्रेक लेने का फैसला किया था। इसके बाद क्रिकेटर्स के बीच मेंटल हेल्थ को लेकर खूब चर्चा भी हुई थी। यही नहीं, दुनिया के कई महान खिलाड़ियों ने अपने जीवन के मुश्किल समय की बातों का भी ज़िक्र किया था।

    गौरतलब है कि, कोरोना महामारी के कारण खिलाड़ियों को इस समय COVID-19 PROTOCOL के तहत बेहद सुरक्षित और कड़े नियमोंके बीच बायोबबल में रहना पड़ता है। जिससे मेंटल हेल्थ और भी ज्यादा जरूरी हो गई। इसे लेकर हार्दिक पांड्या का मानना है कि क्वारंटीन में रहना आसान नहीं है। लेकिन, अगर आपको मेंटली फिट रहना है तो आपको सुनिश्चित करना होगा कि दिन में एक बार आप किसी फिजिकल एक्टिविटी का हिस्सा ज़रूर बनें। इससे आपकी बॉडी और दिमाग दोनों ही फिट रहेगा।