ipl-2021-indian-premier-league-ms-dhoni-played-superb-inning-in-csk-chennai-superkings-practice-match

    – विनय कुमार

    भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही 5 मैचों की T20 सीरीज (India vs England T20 Series 2021) का तीसरा मैच मंगलवार16 मार्च को अहमदाबाद के ‘नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम’ (Narendra Modi Cricket Stadium Ahmedabad) में खेला गया। इस मैच में कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) को छोड़ सभी तीस मार खां बल्लेबाज फिसड्डी साबित हुए। इस मैच में इंग्लैंड ने 156 रनों के लक्ष्य को 10 गेंद बाकी रहते 8 विकेट से जीत लिया। 

    इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और मार्क वुड (Mark Wood) की  बेहद घातक और खतरनाक शानदार गेंदबाजी के दम पर पावरप्ले के भीतर ही भारत टीम के 3 बड़े विकेट गिरा दिए। केएल राहुल (0), ईशान किशन (4) और रोहित शर्मा (15) के आउट होने के बाद पावरप्ले तक भारत का स्कोर सिर्फ 24 रन ही था,  जो T20 क्रिकेट के इतिहास में भारत की तरफ से बनाया गया चौथा सबसे कम पावरप्ले स्कोर है। 

    हालांकि, उसके बाद टीम इंडिया के एंग्री यंग मैन कप्तान विराट कोहली की 77 रनों की धमाकेदार बल्लेबाजी और ऋषभ पंत के 25 रन की बदौलत भारत की लाज बचने लायक स्कोर बना। इन दोनों ने मिलकर डूबती पारी को संभाला था। चौथे विकेट के लिए दोनों की जोड़ी ने 40 रनों की पार्टनरशिप की, लेकिन ऋषभ पंत रन आउट हुए और जोड़ी टूट गई। भारतीय टीम एक बार फिर डगमगा गई। 

    श्रेयस अय्यर भी 9 रन बनाकर लौट गए। जिसके बाद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) (17) के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 70 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। 

    विराट और पांड्या की जोड़ी की विस्फोटक बल्लेबाजी की बदौलत भारतीय टीम ने आखिरी के 5 ओवर में करीब 60 रन और जोड़े। इस जोड़ी की इस बल्लेबाजी ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और युसुफ पठान (Yusuf Pathan) के 12 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

    गौरतलब है कि, भारतीय क्रिकेट टीमके पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और युसुफ पठान ने करीब 11 साल पहले 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ (India vs England T20 2009 Lords England) लॉर्डस के मैदान पर छठे विकेट के लिए 63 रनों की बेहतरीन साझेदारी की थी, जो कि T20 I फॉर्मेट में भारत की इस नंबर पर की गई सबसे बड़ी पार्टनरशिप थी। इस रिकॉर्ड को कप्तान विराट कोहली और टीम इंडिया के ऑल राउंडर हार्दिक पांड्या की जोड़ी ने 70 रनों की साझेदारी कर तोड़ दिया।