i-need-to-improve-my-performance-with-new-ball-indias-prasidh-krishna

शुक्रवार को दूसरे एकदिवसीय में भारतीय गेंदबाजों का खराब दिन रहा था।

    पुणे. अपनी गति और उछाल से सभी को प्रभावित करने वाले भारतीय टीम के नये तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा (Prasidh Krishna) ने स्वीकार किया कि उन्हें नयी गेंद के साथ अधिक किफायती बनने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। इंग्लैंड के खिलाफ दोनों एकदिवसीय मैचों (India vs England ODI Match) में प्रसिद्ध पुरानी गेंद से विकेट झटकने में सफल रहे लेकिन शुरुआती ओवरों में नयी गेंद से उनके खिलाफ आसानी से रन बने।

    प्रसिद्ध (Prasidh Krishna) ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय में भारतीय टीम की छह विकेट से हार के बाद कहा, ‘‘ व्यक्तिगत रूप से, मैं बेहतर शुरुआत करना चाहूंगा। मैं नयी गेंद से गेंदबाजी करने के मामले में सुधार करना चाहूंगा। मेरे खिलाफ जो रन बने वे खराब गेंद पर बने। ऐसे में मैं वापस जाकर उन पहलुओं पर काम करूंगा।”

    शुक्रवार को दूसरे एकदिवसीय में भारतीय गेंदबाजों का खराब दिन रहा था। कृष्णा ने कहा कि जॉनी बेयरस्टॉ और बेन स्टोक्स जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे उसमें गेंदबाज शायद ही कुछ कर सकते थे।

    उन्होंने कहा, ‘‘ हम बेहतर गेंदबाजी कर सकते थे, मैं इस तथ्य से इनकार नहीं कर रहा हूं लेकिन हमें उनके खेलने के तरीके को श्रेय देना होगा। यह काफी आक्रामक बल्लेबाजी थी, हमारे खिलाफ काफी बुरा हुआ।” उन्होंने कहा, ‘‘ आज के दौर में सीमित ओवरों के क्रिकेट में ऐसा ही होता है। सिर्फ चार क्षेत्ररक्षक 11वें से 40वें ओवर तक 30 गज की घेरा के बाहर रहते है, ऐसे में यह होना ही है।”

    भारतीय गेंदबाज ने कहा, ‘‘ इसमें कोई शक नहीं कि यह बल्लेबाजी करने के लिए बहुत अच्छा विकेट था । स्कोर खुद ही यह बयां करते हैं। हमने 330 रन बनाए और उन्होंने 44 वें ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। इसी से सबकुछ पता चलता है। यह एक सपाट पिच थी। यह पिच गेंदबाजों के लिए चुनौतीपूर्ण थी।”