india-vs-england-4th-t20-virendra-sehwag-angry-after-suryakumar-yadav-out-on-umpire-soft-signal

सूर्यकुमार यादव ने अपने टी20 करियर में बल्लेबाजी का आगाज छक्के के साथ किया।

    अहमदाबाद. इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे है पांच मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज का चौथा मैच (India vs England 4th T20 Match) भारत ने जीत लिया है। इस मैच के बाद दोनों टीम 2-2 की बराबरी पर है।

    इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। वहीं, पहले बल्लेबाजी करने आई भारतीय टीम की शुरुआत भी कुछ खास अच्छी नहीं रही। वहीं, भारतीय टीम के सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने भारत को जीत दिलाने में काफी मदद की। सूर्यकुमार यादव ने अपने टी20 करियर में बल्लेबाजी का आगाज छक्के के साथ किया। 

    सूर्यकुमार (Suryakumar Yadav) ने इंग्लैंड के गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की बॉल पर छक्के लगाकर अपनी इंटरनेशनल पारी की शुरुआत की। सूर्यकुमार यादव ने अपने दूसरे टी20 में हाफ सेंचुरी मारी। उन्होंने 31 गेंद में 57 रन बनाए। उन्होंने अपनी इस पारी में तीन छक्के और चार चौके मारे। हालांकि, सूर्यकुमार (Suryakumar Yadav) जल्द आउट हो गए।  सैम कुर्रन ने मलान के हाथों यादव को आउट कराया। अंपायर के सॉफ्ट सिग्नल देने की वजह से उन्हें आउट करार दिया। 

    दरअसल, सैम कुर्रन की बॉल पर सूर्यकुमार (Suryakumar Yadav) ने हवाई शॉट खेला और मलान ने कैच पकड़ने का दावा किया। मैदानी अंपयार ने सॉफ्ट सिग्नल आउट दिया। इसके बाद तीसरे अंपायर ने कई बार रीप्ले देखने के बाद सूर्यकुमार को आउट करार दिया। रीप्ले में दिख रहा था कि मलान गेंद जमीन से छू चुके हैं, लेकिन पक्के तौर पर कोई सबूत न होने के कारण सूर्यकुमार को आउट दिया गया।  

    अंपायर के इस फैसले से भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) काफी नाराज हो गए। वीरेंद्र सहवाग ने यादव को इस तरह आउट दिए जाने के बाद ट्विटर पर अपनी भड़ास निकाली। उन्होंने अपना गुस्सा जताते हुए एक मजेदार मीम्स शेयर किया। वीरेंद्र सहवाग के अलावा कई क्रिकेट फैंस ने भी अंपायर के इस फैसले पर नाराजगी जताई हैं। 

    सहवाग के अलावा भारत के पूर्व बल्लेबाज वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने एक बच्चों की कविता के साथ जोड़ते हुए इस फैसले पर सवाल उठा डाले। उन्होंने आईसीसी और उसके ‘सॉफ्ट सिग्नल’ वाले नियमों पर निशाना साधा जिसके तहत असमंजस की स्थिति में मैदानी अंपायर के फैसले के साथ जाया जाता है।