BCCI President Ganguly hope for India's wheelchair cricketers in hopes of better life

कोलकाता. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को कहा कि कोविड-19 महामारी से उपजी परिस्थितियों के बाद भी बोर्ड यह सुनिश्चित करने के लिए पूरी कोशिश करेगा कि इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला का आयोजन भारत में ही हो।

उन्होंने उम्मीद जतायी घरेलू टूर्नामेंटों को भी किसी समय शुरू किया जा सकेगा। भारत में कोरोना वायरस के मामले 60 लाख को पार गये है जिसमें से 95,000 से अधिक लोगों की मौत हो गयी है। इंग्लैंड को अगले साल जनवरी और मार्च के बीच पांच टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए भारत का दौरा करना है।

उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में यूएई में इंग्लैड के खिलाफ श्रृंखला आयोजित करने के विकल्प के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘हमारी प्राथमिकता यही है कि यह (इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला) भारत में हो। हम इसे भारतीय मैदानों पर करने की कोशिश करेंगे। यूएई में यह फायदा है कि वहां तीन स्टेडियम हैं (अबू धाबी, शारजाह और दुबई)।”

बीसीसीआई ने हाल ही में अमीरात क्रिकेट बोर्ड से वहां मैच करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये थे। गांगुली ने कहा, ‘‘ मुंबई में भी हमारे पास ऐसी सुविधा है जहां सीसीआई, वानखेड़े और डीवाई पाटिल स्टेडियम है। हमारे पास ईडन गार्डन भी है। हमें एक बायो बबल (जैव-सुरक्षित माहौल) बनाना होगा। हम अपनी क्रिकेट भारत में ही खेलना चाहते है। लेकिन हम कोरोना वायरस की स्थिति पर भी निगरानी रखे हुए हैं।”

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले छह महीने हर काम के लिए मुश्किल रहे हैं। आप चाहते हैं कि आपके यहां क्रिकेट का आयोजन हो। आप चाहते हैं कि जीवन वापस सामान्य हो जाए, इसमें खिलाड़ी भी शामिल हैं। लेकिन आप यह भी चाहते हैं कि कोविड-19 की स्थिति पर करीबी नजर रखी जाएं।”

बीसीसीआई ने 2019-20 में पुरुषों और महिलओं के 2036 घरेलू मैचों का आयोजन किया। अगर चीजें सामान्य रहती तो रणजी ट्रॉफी, दलीप ट्रॉफी, अंडर -23 सीके नायडू ट्रॉफी, विजय हजारे, देवधर ट्रॉफी, और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जैसे टूर्नामेंटों को आयोजन हो रहा होता।

उन्होंने कहा, ‘‘हम स्थिति पर निगरानी रखे हुए हैं। हम अपना घरेलू सत्र शुरू करना चाहते हैं। हमारे दिमाग में सभी तरह के संयोजन, स्थितियां हैं। हम इसके लिये कोशिश करेंगे और जितना हो सके उतना करेंगे।” इंडियन प्रीमियर लीग में पूर्व भारतीय कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने उम्मीद जतायी कि यह करिश्माई खिलाफी चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए अच्छा करेगा।

उन्होंने कहा, ‘‘मौजूदा परिस्थितियों में उसे लय पाने में थोड़ा समय लगेगा। उसने डेढ़ साल से क्रिकेट नहीं खेला है। आप कितने भी अच्छे खिलाड़ी हो वापसी करना आसान नहीं होता है।” (एजेंसी)