team-india
File Photo

    नयी दिल्ली. पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर (Dilip Vengsarkar) को हैरानी है कि कम तैयारियों के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल गंवाने के बावजूद विराट कोहली की टीम इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला से पहले तीन सप्ताह का अवकाश लेगी।

    पूर्व मुख्य चयनकर्ता वेंगसरकर ने कहा कि भारत ने डब्ल्यूटीसी चक्र में पिछले दो साल में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन फाइनल के लिये उसकी तैयारी आदर्श नहीं थी।

    उन्होंने कहा, “मैंने इस चक्र में क्रिकेट मैच देखने का आनंद लिया। भारत ने इस चक्र में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन कम तैयारियों के कारण वे फाइनल में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये। इतने महत्वपूर्ण मैच से पहले उन्होंने एक अभ्यास मैच तक नहीं खेला।”

    dilip vengsarkar

    वेंगसरकर ने पीटीआई से कहा, “दूसरी तरफ न्यूजीलैंड मैच फिट था। उसने इससे पहले दो टेस्ट (इंग्लैंड के खिलाफ) खेले थे।” भारतीय खिलाड़ी अब तीन सप्ताह का विश्राम लेकर इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से शुरू होने वाली पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिये 14 जुलाई को एकत्रित होंगे। टीम के इस कार्यक्रम से वेंगसरकर हैरान हैं।

    उन्होंने कहा, “मैं नहीं जानता कि इस तरह का कार्यक्रम कैसे तैयार किया गया जहां आप बीच में अवकाश पर जाते हैं और फिर वापस आकर टेस्ट मैच खेलते हैं। डब्ल्यूटीसी फाइनल के बाद एक सप्ताह का विश्राम पर्याप्त था। आपको लगातार खेलते रहने की जरूरत है। मुझे हैरानी है कि इस कार्यक्रम को मंजूरी मिल गयी।”

    भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बल्लेबाजों से अपने इरादे दिखाने की बात की लेकिन वेंगसरकर ने कहा कि तैयारियों के प्रति भी अपने इरादे दिखाने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “यदि वह इरादों की बात कर रहे हैं तो फिर टीम ने इस मैच के लिये सही तैयारी क्यों नहीं की। तब आपके इरादे कहां थे। उन्हें कम से कम दो चार दिवसीय मैच खेलने चाहिए थे।” (एजेंसी)