File Photo
File Photo

    होव. आक्रामक सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा की तूफानी पारी और स्पिनरों की कसी हुई गेंदबाजी से भारत (India) ने रविवार को यहां दूसरे महिला टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच (Second T20 Match) में इंग्लैंड (England) को आठ रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला को 1-1 से बराबर किया। शेफाली वर्मा (38 गेंदों पर 48 रन) और स्मृति मंधाना (16 गेंदों पर 20 रन) ने पहले विकेट के लिये 70 रन जोड़े लेकिन इन दोनों के बीच में धीमे पड़ने और फिर दो रन के अंदर पवेलियन लौटने से भारत दबाव में आ गया।

    भारत ने चार विकेट पर 148 रन बनाये जिसमें कप्तान हरमनप्रीत कौर ने दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 31 रन और दीप्ति शर्मा ने 27 गेंदों पर नाबाद 24 रन का योगदान दिया। इंग्लैंड को टैमी ब्यूमोंट (50 गेंदों पर 59 रन) और कप्तान हीथर नाइट (28 गेंदों पर 30 रन) ने तीसरे विकेट के लिये 75 रन जोड़कर टीम को शुरुआती झटकों से उबारा। इन दोनों के लगातार गेंदों पर आउट होने के बाद भारत को वापसी का मौका मिल गया।

    इंग्लैंड का स्कोर 14वें ओवर तक दो विकेट पर 106 रन था लेकिन आखिर में वह आठ विकेट पर 140 रन ही बना पाया। भारत की तरफ से लेग स्पिनर पूनम यादव ने चार ओवर में 17 रन देकर दो और ऑफ स्पिनर दीप्ति शर्मा ने 18 रन देकर एक विकेट लिया जबकि स्नेह राणा ने चार ओवर में केवल 21 रन दिये। इस तरह से इन तीन स्पिनरों ने 12 ओवरों में केवल 56 रन दिये और तीन विकेट लिये। अरुंधति रेड्डी ने अपने पहले ओवर में ही डैनी वाइट (तीन) को आउट करके भारत को अच्छी शुरुआत दिलायी। ऋचा घोष ने अच्छी फॉर्म में चल रही नताली साइवर (एक) को सीधे थ्रो पर रन आउट करके भारत को बड़ी सफलता दिलायी।

    इंग्लैंड हालांकि ब्यूमोंट के प्रयासों से पावरप्ले में 52 रन बनाने में सफल रहा। ब्यूमोंट ने 39 गेंदों पर टी20 अंतरराष्ट्रीय में अपना नौवां अर्धशतक पूरा किया। दीप्ति शर्मा ने उन्हें पगबाधा आउट करके नाइट के साथ उनकी साझेदारी तोड़ी। अगली गेंद पर नाइट रन आउट हो गयी जबकि सोफिया डंकले (चार) भी नहीं टिक पायी जिससे भारत को वापसी का मौका मिल गया। ब्यूमोंट ने अपनी पारी में सात और नाइट ने चार चौके लगाये। भारतीय स्पिनरों ने इसके बाद शिकंजा कस दिया और श्रृंखला को जीवंत बनाये रखा। तीसरा टी20 14 जुलाई को चेम्सफोर्ड में खेला जाएगा।

    शेफाली ने सोफी एक्सलेस्टोन पर डीप मिडविकेट पर छक्का जड़ा और फिर कैथरीन ब्रंट के अगले ओवर में लगातार पांच चौके लगाये। भारत का स्कोर चार ओवर के बाद बिना किसी नुकसान के 47 रन था लेकिन शेफाली अगली 11 गेंदों पर केवल एक रन बना पायी जिससे पावरप्ले में टीम 49 रन तक ही पहुंच पायी। मंधाना आठवें ओवर में सराह ग्लेन (32 रन देकर एक) पर मिडऑफ के ऊपर से छक्का जड़कर चुप्पी तोड़ी लेकिन फ्रेया डेविस (31 रन देकर एक) के अगले ओवर में उन्होंने धीमी गेंद पर कवर पर आसान कैच थमा दिया।

    हीथर नाइट ने गेंदबाजी में लगातार बदलाव किये और शेफाली अपना अर्धशतक पूरा नहीं कर पायी। उन्होंने ऑफ स्पिनर मैडी विलियर्स (नौ रन देकर एक) के पहले ओवर में ही ‘एक्रास द लाइन’ आकर बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन नैट साइवर ने बेहतरीन कैच लपककर उनकी पारी का अंत कर दिया। अब हरमनप्रीत पर दारोमदार था।

    उन्होंने विलियर्स पर छक्का जड़कर अपने इरादे जतलाये लेकिन ग्लेन ने डेथ ओवरों से पहले ही हरमनप्रीत के तूफान को थाम दिया। पहली गेंद पर छक्का जड़ने के बाद अगली गेंद पर भी उन्होंने लंबा शॉट खेला लेकिन ब्रंट ने लांग ऑफ पर डाइव लगाकर उसे कैच में बदल दिया। भारत आखिरी चार ओवरों में अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाया। उसने इस बीच दो चौके और एक छक्का लगाया तथा ऋचा घोष (आठ) का विकेट गंवाया। स्नेह राणा आठ रन बनाकर नाबाद रही। साइवर ने चार ओवर में 20 रन देकर एक विकेट लिया।  (एजेंसी)