Gayle recovers from stomach pain, may take the field against RCB

IPL T20, 2020 के 22 वें मैच में गुरुवार 8 अक्टूबर को किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेला गया।

-विनय कुमार

IPL T20, 2020 के 22 वें मैच में गुरुवार 8 अक्टूबर को किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेला गया। इस मैच को लेकर पूरी उम्मीद थी कि क्रिस गेल को मौका दिया जाएगा। 5 में से 4 मैच हारने के बाद केएल राहुल की अगुवाई वाली टीम हर हाल में इस मैच को जीतना चाहती थी। एक संतुलित प्लेइंग XI बनाने की कोशिश में KXIP ने एक बार फिर अपने लाइन-अप में 3 बदलाव किए, लेकिन क्रिस गेल का नाम शामिल नहीं था। 

किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) में सरफराज खान, हरप्रीत बराड़ और क्रिस जॉर्डन की जगह पर प्रभसिमरन सिंह, अर्शदीप सिंह और मुजीब उर रहमान को शामिल किया। क्रिस गेल को टीम में ना पाकर ज़ाहिर है गेल के साथ टीम के चाहने वालों में  घोर निराशा हुई होगी। आश्चर्य भी होना तय है था।

टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने मैच के दौरान कमेंटेटर्स से बात करते हुए खुलासा किया कि क्रिस गेल इस ताज़ा सीजन के अपने पहले मैच के लिए तैयार थे, लेकिन मैच से पहले बीमार पड़ गए। खबर के मुताबिक क्रिस गेल फूड प्वाइजनिंग से पीड़ित थे जिसके चलते उनको प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली। अनिल कुंबले ने कहा, “हम क्रिस गेल को प्लेइंग इलेवन में चाहते थे, लेकिन दुर्भाग्य से वह बीमार हैं।”

फिलहाल, गेल के मैदान पर वापस आने की कोई ताज़ा खबर नहीं है। किंग्स इलेवन पंजाब अबू धाबी (UAE) में शनिवार 10 अक्टूबर की दोपहर कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) से  भिड़ेगी। लेकिन, साफ है, क्रिस गेल की गैरमौजूदगी टीम को ज़रूर साल रही होगी। 

ताज़ा तस्वीर ये है कि, किंग्स इलेवन पंजाब की स्थिति खराब है और उसकी प्लेऑफ में प्रवेश करने की उम्मीदें कम होती जा रही हैं। SRH के साथ हुई भिडंत में बुरा हाल हुआ। किंग्स इलेवन पंजाब को 67 रनों से हराया के बाद हटाने के बाद SRH पॉइंट्स टेबल में तीसरे पायदान पर पहुंच चुका है। पिछले मैच में 20 ओवर में SRH ने 201 रन का पहाड़ सा लक्ष्य किंग्स इलेवन पंजाब को दिया। जवाब में KXIP की शुरुआत खराब रही, हालांकि, निकोलस पूरन ने उनकी उम्मीदों को जिंदा ज़रूर रखा। उन्होंने 37 में 77 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली, लेकिन दूसरे छोर से कोई  मजबूत साथ नहीं मिल पाया और फिर विकेट ताश के पत्तों के महल की तरह ढहते चले गए। इस स्थिति को देखते हुए क्रिस गेल की कमी किंग्स इलेवन पंजाब को बहुत साल रही होगी।