मैच अच्छा रहा, अंत में दो अंक ही मायने रखते हैं: धोनी

चेन्नई (CSK) के प्रत्येक खिलाड़ी ने अपना योगदान दिया जिससे वह मंगलवार को सनराइजर्स (SRH) के खिलाफ अपने 167 रन के स्कोर बचाव करने में सफल रहा।

दुबई. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने यहां इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) मैच में सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) पर मिली 20 रन की जीत के बाद अपने खिलाड़ियों की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि यह मुकाबला अच्छा रहा और अंत में दो अंक ही मायने रखते हैं। चेन्नई (CSK) के प्रत्येक खिलाड़ी ने अपना योगदान दिया जिससे वह मंगलवार को सनराइजर्स (SRH) के खिलाफ अपने 167 रन के स्कोर बचाव करने में सफल रहा।

धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि मायने यह रखता है कि आपको दो अंक मिले। आज हमने अच्छा किया, यह एक मैच था जो ‘परफेक्ट’के करीब था। एक दो ओवर थोड़े बेहतर हो सकते थे लेकिन यह मैच अच्छा रहा। हम काफी सुधार कर सकते हैं, लेकिन हम अभी ठीक हैं।”

उन्होंने कहा, ‘‘ आप मैच जीतते रहो तो अंक तालिका भी ठीक हो जायेगी। अंक तालिका को देखने का कोई मतलब नहीं, लेकिन हम फिर देखेंगे कि हम किसमें सुधार कर सकते हैं। अहम यह है कि किसी भी चीज को छुपाओ नहीं क्योंकि आपने मैच जीता है। ” धोनी ने कहा कि उनके तेज गेंदबाजों ने रणनीति पर अच्छी तरह से अमल किया जिससे टीम को फायदा मिला।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आमतौर पर पहले छह ओवर के हिसाब से स्कोर का आकलन करता हूं। काफी कुछ तेज गेंदबाजों पर निर्भर था। हमें रणनीति पर अच्छी तरह से अमल करने की जरूरत थी और उन्होंने ऐसा किया। ” धोनी ने कहा, ‘‘सैम कुरेन हमारे लिये पूर्ण क्रिकेटर हैं और आपको ऐसे आलराउंडर की जरूरत होती है। वह गेंद को अच्छी तरह स्ट्राइक करता है, वह बल्लेबाजी में ऊपरी क्रम में खेल सकता है और वह स्पिनरों को बखूबी खेलता है। अगर आपको लय चाहिए तो वह हमें 15 से 45 रन दे सकता है। मुझे लगता है कि जैसे टूर्नामेंट आगे बढ़ेगा, वह डेथ गेंदबाजी में और सहज हो जायेगा। ”

मैन ऑफ द मैच रविंद्र जडेजा को चुना गया, जिन्होंने 10 गेंदों में दो चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 25 रन बनाने के बाद एक विकेट झटका और दो शानदार कैच लपके। उन्होंने कहा, ‘‘मैं खुश हूं, जब टीम दबाव में होती है और आप गेंद और बल्ले से प्रदर्शन करते हो तो आप खुशी महसूस करते हो। ” सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर ने कहा, ‘‘विकेट थोड़ा धीमा था, हम लक्ष्य का पीछा करने में लय नहीं पकड़ सके। अतिरिक्त बल्लेबाज को नहीं रखना गलती हुई। लेकिन क्रिकेट में ऐसा होता है, आप हमेशा जीत नहीं सकते।(एजेंसी)