IPL

    – विनय कुमार

    भारतीय लीग क्रिकेट के महासमर IPL T20 Tournament का सीज़न-14 अप्रैल की 9 तारीख से शुरू होने जा रहा है और ताज़ा सीज़न की आखिरी भिड़ंत यानी फाइनल मैच 30 मई को अहमदाबाद में होगा। दुनिया की सबसे रोमांचक लीग क्रिकेट की शुरुआत  2008 में हुई थी IPL T20 Season-1 से   IPL T20 2021 Season-14 के बीच 13 सीज़न गुजर चुके हैं। ज़ाहिर है अबकी बार एक बार फिर आईपीएल की खिताबी भिड़ंत में हमेशा की तरह बेहद रोमांचक और धड़कनें बढ़ा देने वाले नज़ारे होंगे। 

    बीते 13 सीज़न में कई ऐसे मैच (IPL Matches) रहे हैं जिसने क्रिकेटप्रेमियों को खेल के अंत तक हार-जीत के रोमांच से भरे फैसलों को देखने के लिए बांधे रखा, कि आखिर मैच की जीत का सेहरा किस टीम के सिर सजेगा। आइए नजर डालते हैं आईपीएल के इतिहास के उन 3 सबसे रोमांचक फाइनल मुकाबलों (IPL THRILLING FINAL MATCHES) की बात करें जिसने खेलप्रेमियों को हैरत में डाल दिया। 13 सीज़न के फाइनल मुकाबलों में से एक बार तो बाॅलीवुड के दो स्टार्स की टीमों में दिलचस्प टक्कर देखने मिली।

    1. कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) बनाम किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) IPL 2014

    IPL-2014 का फाइनल बेहद रोमांचक और दिलचस्प था। फाइनल में दो टीम कौन सी होंगी होंगी इसका निर्णय तो हो ही चुका था। यही कारण था कि मैच शुरू होने से पहले ही खेलप्रेमियों के लिए यह भिड़ंत बेहद रोमांचक बन चुका था। ज़ाहिर सी बात थी, क्योंकि इस मुकाबले में बाॅलीवुड के स्टार्स की टीमों के बीच महायुद्ध होना था। एक तरफ थी शाह रुख़ खान (Shah Rukh Khan) की ‘कोलकाता नाइट राइडर्स’ (KKR) तो दूसरी तरफ बाॅलीवुड की अदाकारा प्रीति जिंटा (Preity Zinta) की टीम ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ (KXIP)।

    उस मुकाबले में ‘कोलकाता नाइट राइडर्स’ के कप्तान गाैतम गंभीर (Gautam Gambhir) थे। उन्होंने टाॅस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया और KXIP को बल्लेबाजी का न्योता दिया। KKR के घातक गेंदबाजों ने 5.1 ओवर में KXIP के 30 के स्कोर पर 2 विकेट गिरा दिए थे, लेकिन चाैथे नंबर पर आए बल्लेबाज और टीम के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा (Vriddhiman Saha) का बल्ला पगलाया।

    रिद्धिमान साहा ने धुंआधार बल्लेबाजी करते हुए 55 गेंदों में नाबाद 115 रन ठोक दिए, जिसमें 10 जानदार चाैके और 8 शानदार छक्के शामिल थे। KXIP के मनन बोहरा (Manan Bohra) ने 67 रन बनाए थे। ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ ने  KKR के सामने 4 विकेट खोकर 200 रनों का विराट लक्ष्य रख दिया।

    पहाड़ से लक्ष्य को चेज कर जीत हासिल करने मैदान में उतरी KKR ने 6.1 ओवर में 59 रन पर 2 विकेट गंवा दिए थे। टीम के धाकड़ बल्लेबाज और कप्तान गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) 23 रन बनाकर पवेलियन लौट चुके थे। लेकिन इसके बाद मनीष पांडे (Manish Pandey) और युसूफ पठान (Yusuf Pathan) ने मैच का रुख ही मोड़ दिया। 

    मनीष पांडे का बल्ला जीत पाने की चुनौती की ललकार से बौखला उठा था तो युसूफ पठान भी हर हाल में मैच को अपने पाले में लेने को लेकर ठान चुके थे। मनीष पांडे ने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए 50 गेंदों में 94 रन ठोक डाले और युसूफ पठान ने 22 गेंदों में 36 रन बनाए। 

    लेकिन जैसे ही इन दोनों बल्लेबाजों को KXIP ने आउट कर दिया, उस समय ऐसा लगा मानो KKR के पंजे से अब जीत निकल जाएगा।  लेकिन 8 नंबर ने कमाल दिखाया। 8वें नम्बर पर बल्लेबाज़प करने आए पीयूष चावला (Piyush Chawla) ने हैरान कर दिया कर दिया। उन्होंने 1 चाैका और 1 छक्का ठोककर  5 गेंदों में नाबाद 13 रन बनाते हुए अपनी टीम को जीत दिला दी। शाह रुख़ ख़ान की टीम KKR ने बेहद रोमांचक मैच में 3 गेंद रहते प्रीति जिंटा की टीम KXIP को हरा दिया और 2014 की IPL Trophy जीत ली।

    2. मुंबई इंडियंस (MI) बनाम राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स (RPS) IPL 2017

    आईपीएल के इतिहास में सबसे कामयाब टीम मुंबई इंडियंस’ (Mumbai Indians) है, इसमें कोई दो राय नहीं है। ‘मुंबई इंडियंस’ ने 5 बार IPL खिताब पर कब्जा किया है। लेकिन इन पांच में से एक मुकाबला सबसे रोमांचक था- IPL 2017 का फाइनल मैच। आईपीएल 2017 का फाइनल ‘मुंबई इंडियंस’ (MI) बनाम राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स (RPS) के बीच था।

    MI की कमान रोहित शर्मा के पास थी और RPSJ के कप्तान स्टीव स्मिथ (Steve Smith) थे। मैच इतना रोमांचक था कि हार और जीत का फैसला अंतिम गेंद पर टिका था। सांसें रोक देने वाली इस फाइनल भिड़ंत में ‘राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स’ 1 रन से हार गई।

    इस मैच में ‘मुंबई इंडियंस’ (MI) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में सिर्फ 129 रन बना पाई। MI के स्कोर को देख लगा कि ‘राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स’ आसानी से मैच जीत जाएगा, क्योंकि चेज करने वाली टीम में महान क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) भी थे। उस टीम में धोनी बतौर विकेटकीपर खेल रहे थे।

    MI के जवाब में ‘राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स’ के सलामी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने शानदार 51 रन बनाए। ‘राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स’ (Rising Pune Super Jiants) ने 16.2 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 98 रन बना लिए थे और अब जीत के लिए 22 गेंदों में सिर्फ 31 रन की जरूरत थी। उसके पास 7 और बल्लेबाज बचे थे। 

    पुणे सुपरजायंट को आखिरी तीन ओवर में 30 रन बनाने थे। आखिरी 2 ओवर में 23 और अंतिम ओवर में 11 रन का लक्ष्य था।  लेकिन, मिचेल जॉनसन (Mitchell Johnson) पहली गेंद पर चौका खाने के बाद अगली दो गेंदों पर दो विकेट लेने में कामयाब रहे, वो भी मनोज तिवारी और स्टीव स्मिथ के विकेट। खासतौर पर स्टीव स्मिथ के विकेट ने लगभग तय कर दिया था कि अब ‘मुंबई इंडियंस’ जीत रही है।

    लेकिन, मैच का फैसला अंतिम गेंद पर जा टिका था। आखिरी गेंद पर ‘राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स’ को जीत के लिए 4 रन की जरूरत थी, लेकिन सिर्फ 2 रन बन सके। जीत के लिए 130 रन बनाने थे लेकिन ‘RPS’ 128 रन ही बना पाई और इसके साथ ही ‘मुंबई इंडियंस’ ने खिताब पर कब्जा कर लिया।

     

    3. मुंबई इंडियंस (MI) बनाम चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) IPL 2019

    आईपीएल (IPL) में दो सबसे मजबूत टीमों के बीच साल 2019 का फाइनल मैच भी अंतिम गेंद तक खेला गया था। IPL T20 2019 फाइनल मैच की आखिरी गेंद पर फैसला हुआ कि कौन चौथी बार आईपीएल का चैम्पियन बनेगा। ‘मुंबई इंडियंस’ (Mumbai Indians) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट के नुकसान पर 149 रन बनाए। जीत के लिए 150 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए ‘चेन्नई सुपर किंग्स’ (CSK) को मैच के आखिरी ओवर में 9 रन चाहिए थे।

    धोनी की येलो आर्मी ‘चेन्नई सुपर किंग्स’ के धाकड़ बल्लेबाज शेन वॉटसन (Shane Watson) 80 रन पर खेल रहे थे, लेकिन वह रोहित शर्मा के घातक गेंदबाज का शिकार हो गए और पवेलियन भेज दिए गए। अब स्थिति बदल गई। ‘येलो आर्मी’ को जीत के लिए आखिरी गेंद पर जीत के लिए 2 रन चाहिए थे लेकिन ‘मुंबई इंडियंस’ के खतरनाक तेज़ गेंदबाज लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) ने शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) को आउट कर दिया और ‘मुंबई इंडियंस’ चौथी बार आईपीएल का शहंशाह बन गया।