Jonny Bairstow revealed, this will be the team's strategy for the last match of the series

उनकी टीम ने इस दौरान 20 छक्के लगाये।

    पुणे. भारत के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मैच में 337 रन के लक्ष्य को महज 43.3 ओवर में हासिल करने वाले इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) ने कहा कि रविवार को खेले जाने वाले श्रृंखला के (India vs England 3rd ODI Match) तीसरे और निर्णायक मुकाबले में भी उनकी टीम का आक्रामक और निडर रवैया जारी रहेगा।

    श्रृंखला के पहले मैच में 66 गेंद 94 रन की पारी खेलने वाले इस सलामी बल्लेबाज ने शुक्रवार को 112 गेंद में 124 रन बनाकर इंग्लैंड की जीत की नींव रखी। उनकी टीम ने इस दौरान 20 छक्के लगाये। बेयरस्टो (Jonny Bairstow) ने दूसरे एकदिवसीय में जीत से श्रृंखला के 1-1 से बराबर होने के बाद कहा, ‘‘ सच कहूं, तो मुझे लगता है कि यह अपने आप हो रहा है।टीम में ऐसी कोई बातचीत नहीं हुई है कि हमें अधिक छक्के लगाने चाहिए।”

    इस मैच में बेयरस्टो (Jonny Bairstow) ने सात छक्के लगाये जबकि तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आये बेन स्टोक्स ने 99 रन पर आउट होने से पहले 10 छक्के लगाये। सलामी बल्लेबाज जैसन रॉय (55) और पदार्पण कर रहे लियाम लिविंगस्टोन (नाबाद 27) ने भी भारतीय गेंदबाजों को नहीं बख्शा जिससे उनके खिलाफ 20 छक्के लगे। भारत के खिलाफ इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने 2015 में इतने ही छक्के लगाये थे।

    बेयरस्टो (Jonny Bairstow) ने कहा, ‘‘ अगर आप पूरी दुनिया में खेल के तरीके को देखेंगे तो, चाहे वह टी20 हो या 50 ओवर प्रारूप, आम तौर पर अधिक बाउंड्री लगाने वाली टीमें मैच जीतती हैं।” उन्होंने कहा, ‘‘ आप अगर चौके की जगह छक्के लगा रहे है तो यह आंकड़ा और बढ़ जाता है।” उन्होंने कहा, ‘‘ आज 20 (छक्के) लगे, एक मैच के लिए यह असाधारण संख्या है। अगर हम ऐसे ही बाउंड्री लगाना जारी रखते है तो गेंदबाजों को दबाव में रख सकते है, उन्हें पता होगा कि थोड़ी सी चूक होने पर भी छक्का लग सकता है।”

    उन्होंने हालांकि कहा कि यह तरीका हर बार सफल नहीं होगा जैसा कि पहले एकदिवसीय में हुआ। बेयरस्टॉ की एकदिवसीय में यह 11वीं शतकीय पारी थी और इस मामले में उनकी नजरें अपने देश के लिए सबसे अधिक शतक लगाने पर है। उन्होंने अपने सभी शतक 2017 में पारी का आगाज करने की शुरूआत के बाद लगाये हैं।

    इस मामले में जो रूट (16), कप्तान इयोन मोर्गन (13) और मार्कस ट्रेस्कोथिक (12) उनसे आगे है। उन्होंने कहा, ‘‘ मैं चाहूंगा कि एकदिवसीय में इंग्लैंड के लिए सबसे अधिक शतकीय पारी खेलूं। मैंने 11 बार ऐसा किया है। मुझे लगता है कि मैंने 56-57 बार पारी का आगाज किया है तो ऐसे में इन आंकड़ो से खुश हूं।”