राहुल और गेल की अर्धशतकीय पारियों से किंग्स इलेवन ने हार का क्रम तोड़ा

शारजाह: कप्तान लोकेश राहुल (K L Rahul) (नाबाद 61) और टूर्नामेंट के मौजूदा सत्र में पहला मैच खेल रहे क्रिस गेल (Chris Gayle) (53) की आर्धशतकीय पारियों और दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 93 रन की साझेदारी के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) ने इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) में गुरूवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (Royal Challenger Bangalore) के खिलाफ आठ विकेट से जीत दर्ज की।

मैच के आखिरी ओवर में पंजाब को जीत के लिए सिर्फ दो रन चाहिये थे लेकिन युजवेन्द्र चहल ने पहली पांच गेंद में सिर्फ एक रन देकर मैच को रोमांचक बना दिया। इस दौरान पांचवीं गेंद पर गेल रन आउट हो गये लेकिन क्रीज पर उतरे निकोलन पूरण ने छक्का लगाकर टीम को टूर्नामेंट में दूसरी जीत दिला दी। खास बार यह है कि पंजाब को पहली जीत भी बेंगलोर के खिलाफ ही मिली थी। इस मैच में टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करते हुए बेंगलोर ने निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 171 रन बनाये। पंजाब ने दो विकेट पर 177 रन बनाकर मैच अपने नाम किया।

लक्ष्य का पीछा करते हुए मयंक अग्रवाल और राहुल ने एक बार फिर पंजाब को शानदार शुरुआत दिलाई और दोनों ने आठ ओवर में 78 रन जोड़ें। इस दौरान मयंक ज्यादा आक्रामक रहे जिन्होंने 25 गेंद में चार चौके और तीन छक्के की मदद से 45 रन बनाये। राहुल ने तीसरे ओवर में क्रिस मौरिस की गेंद पर छक्का लगाकर अपने इरादे जाहिर कर दिये। मयंक ने चौथे ओवर में चहल की तीसरी गेंद पर छक्का लगाने के बाद लगातार दो चौके लगाये।

राहुल ने नवदीप सैनी जबकि मयंक ने उदाना की गेंद पर छक्का लगाया जिससे छह ओवर में पंजाब ने बिना किसी नुकसान के 56 रन बना लिये। मयंक ने आठवें ओवर में चहल की पांचवीं गेंद पर एक और छक्का लगाया लेकिन छठी गेंद वर वह बोल्ड हो गये। गेल शुरू में रन बनाने के लिए संघर्ष करते दिखे। राहुल ने इस दौरान 12वें ओवर में मोहम्मद सिराज की आखिरी दो गेंदों पर लगातार छक्के लगाकर गेल का दबाव कम किया। गेल ने वाशिंगटन सुंदर के खिलाफ 13वें ओवर में दो छक्के लगाकर आपने हाथ खोले।

मौरिस की गेंद पर रिव्यू से वह पगबाधा आउट होने से बचे। राहुल ने इसी ओवर में एक रन लेकर 37 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। गेल भी अब लय हासिल कर चुके थे और उन्होंने मोहम्मद सिराज के 16वें ओवर की शुरूआती दो गेंदों में छक्का और चौका लगाया। राहुल ने भी इस ओवर में एक छक्का लगाया। गेल ने इसके बाद सुंदर के द्वारा किये गये 17वें ओवर में भी दो छक्के लगाये और इसी ओवर की आखिरी गेंद पर एक रन लेकर 36 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया।

गेल ने 45 गेंद की पारी में पांच छक्के और एक चौका लगाया जबकि राहुल ने 49 गेंद में इतने ही छक्के और चौका की मदद से नाबाद 61 रन बनाये। इससे पहले कप्तान विराट कोहली की 48 रन की पारी के बाद मौरिस की आखिरी ओवरों में आठ गेंदों पर ताबड़तोड़ 25 रन की नाबाद पारी के दम पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर छह विकेट पर 171 रन बनाये।

मौरिस ने तीन छक्के लगाये। बेंगलोर ने मोहम्मद शमी के आखिरी ओवर में 24 रन जुटाये जिसमें तीन छक्के लगे। पंजाब की टीम ने इस मैच लिए गेल सहित तीन बदलाव किये थे टीम में स्पिनर मुरूगन अश्विन और दीपक हुड्डा को भी जगह दी गयी। टॉस गंवाने के बाद पंजाब के ग्लेन मैक्सवेल ने गेंदबाजी का आगाज किया जिनकी छठी गेंद पर आरोन फिंच ने छक्का लगाया। उन्होंने दूसरे ओवर में भी शमी की गेंद पर चौका लगाया।

देवदत्त पडीक्कल ने भी इसके बाद अर्शदीप सिंह पर चौका और शमी पर छक्का लगाकर हाथ खोला। वह हालांकि पांचवें ओवर में अर्शदीप की पहली गेंद पर निकोलस पूरन को कैच थमा बैठे। उन्होंने 12 गेंद में 18 रन बनाये। मुजीब उर रहमान की जगह टीम में शामिल हुए एम अश्विन ने अपने पहले ही ओवर फिंच को बोल्ड किया। उन्होंने 18 गेंद में 20 रन बनाये। इसके बाद एबी डिविलियर्स की जगह सुंदर बल्लेबाजी के लिये आये लेकिन पंजाब के स्पिनरों ने उन्हें और कोहली को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया। बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में सुंदर अश्विन की गेंद पर क्रिस जोर्डन को कैच थमा बैठे। उन्होंने 14 गेंद में 13 रन बनाये।

सुंदर के आउट होने के बाद कोहली का साथ देने मैदान पर शिवम दुबे आये। पंजाब के स्पिनरों ने हालांकि छठे ओवर से 13वें ओवर तक सिर्फ 48 रन दिये। दुबे ने रवि विश्नोई पर लगातार दो छक्के लगाकर रन दबाव को कम किया। पारी के इस 15वें ओवर में 19 रन बने। दुबे हालांकि 16वें ओवर की आखिरी गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में जोर्डन की गेंद पर विकेटकीपर लोकेश राहुल को कैच थमा बैठे। उन्होंने 19 गेंद में 23 रन बनाने के साथ चौथे विकेट के लिए कोहली के साथ 41 रन की साझेदारी की।

पारी के 18वें ओवर में गेंदबाजी के लिए शमी ने डिविलियर्स और कोहली का विकेट लेकर बेंगलोर को बड़ा झटका दिया। डिविलियर्स दो रन बनाकर हुड्डा को कैच थमा बैठे जबकि कोहली दो रन से अर्धशतक से चूक गये। उनकी 39 गेद की पारी का अंत राहुल ने शानदार कैच लपक कर किया। बेंगलोर की टीम रन गति को तेज करने के लिए संघर्ष कर रही थी लेकिन मौरिस और उदाना ने आखिरी दो ओवरों में 34 रन जोड़कर टीम को 171 रन के स्कोर तक ले गये।

पंजाब के लिए अश्विन ने चार ओवर में सिर्फ 23 रन देकर दो सफलता हासिल की। शमी को भी दो सफलता मिली लेकिन उनके चार ओवर में 45 रन बने। जोर्डन और अर्शदीप को एक-एक सफलता मिली।(एजेंसी)