कोहली और रहाणे मामूली चोट के कारण टीम से बाहर, आवेश के अंगूठे में गंभीर चोट

    डरहम. भारतीय टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और टेस्ट उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को मामूली चोट के कारण काउंटी एकादश (सिलेक्ट काउंटी इलेवन) के खिलाफ मंगलवार से शुरू हुए प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच से आराम दिया गया। इस मुकाबले में विरोधी टीम की ओर से खेल रहे भारत के रिजर्व तेज गेंदबाज आवेश खान का अंगूठा चोटिल हो गया। उन्हें यह चोट हनुमा विहारी के शॉट को रोकते समय लगी।

    मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और रविचंद्रन अश्विन के साथ दोनों अनुभवी बल्लेबाजों को आराम दिए जाने को लेकर बीसीसीआई ने जानकारी दी। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने मीडिया विज्ञप्ति में कहा, “कोहली को सोमवार की देर शाम पीठ में कुछ जकड़न महसूस हुई और उन्हें बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच से आराम करने की सलाह दी है।”

    उन्होंने बताया, “उपकप्तान अजिंक्य रहाणे की बायें पैर की मांसपेशियों के आसपास हल्की सूजन है। उन्हें इसका इंजेक्शन दिया गया है। वह तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के लिए उपलब्ध नहीं थे।”

    उन्होंने कहा, “बीसीसीआई की मेडिकल टीम हालांकि, उनकी (रहाणे) निगरानी कर रही है और उम्मीद है कि इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से नॉटिंघम में शुरू होने वाले पहले टेस्ट के लिए वह समय पर पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे।”

    चूंकि यह प्रथम श्रेणी मैच है, इसलिए सिर्फ बल्लेबाजी करने का विकल्प नहीं है। इसमें क्षेत्ररक्षण भी करना होगा। आवेश के चोटिल होने से भारतीय टेस्ट टीम को एक और झटका लगा। ईसीबी के काउंटी एकादश का प्रतिनिधित्व कर रहे इस गेंदबाज के अंगूठे में गंभीर चोट लगी है। आवेश का पहला स्पैल अच्छा नहीं था जब मयंक अग्रवाल ने उनके खिलाफ आसानी से बाउंड्री जड़ी। उन्होंने हालांकि दूसरे और तीसरे स्पैल में बेहतर गेंदबाजी की।

    लंच के बाद के सत्र के दौरान अपने तीसरे स्पैल में आवेश विहारी के शॉट को रोकते समय अंगूठा चोटिल कर बैठे। उन्हें दर्द से कराहते देखा गया और भारतीय फिजियो मैदान में आये और अंगूठे पर पट्टी बांधी गयी। डरहम काउंटी के ‘यूट्यूब’ चैनल पर कमेंटेटरों ने कहा कि यह ‘अंगूठे की गंभीर’ चोट हो सकती है। भारत के पूर्व क्रिकेटर और 1983 विश्व कप के नायक यशपाल शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त करने के लिए भारतीय खिलाड़ी इस मैच में हाथ पर काली पट्टी बांध कर मैदान में उतरे। यशपाल का 13 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। (एजेंसी)