2021 में भी धोनी ही रहेंगे CSK टीम के कप्तान, लग गई मुहर

– विनय कुमार

2008 से लेकर 2020 के ताज़ा सीज़न के आईपीएल-T20 (IPL T20) के इतिहास में पहली बार चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल के ‘प्लेऑफ’ से बाहर हो गई। ताज़ा सीज़न में हालांकि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी कि ‘येलो आर्मी’ ने जीत के साथ शुरुआत की थी लेकिन बाद में टीम के प्रदर्शन में काफी कमज़ोरी नज़र आई।  चेन्नई सुपर किंग्स अब तक इस सीज़न में 12 मैच खेल चुकी है, जिसमें 8 में हार और सिर्फ 4 जीत के साथ सिर्फ 8 पॉइंट्स लेकर पॉइंट्स टेबल (POINTS TABLE IPL T20, 2020) में सबसे नीचे मौजूद है। आईपीएल के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब चेन्नई सुपर किंग्स प्लेऑफ से बाहर है। धोनी भी अबकी बार प्रशंसकों को रिझा नहीं पाए।  कुल मिलकर कहा जाए तो इस सीज़न में चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन काफी शर्मनाक रहा है।

धोनी की टीम ‘प्लेऑफ’ की रेस से बाहर हो गई है। चेन्नई सुपर किंग्स के आईपीएल के इतिहास में सबसे ख़राब प्रदर्शन के मद्देनज़र उम्मीद लगाई जा रही थी की टीम में बड़े बदलाव किये जा सकते हैं। काफी यकीन के साथ क्रिकेटप्रेमियों में ये कयास लगाए जाने लगा था कि अब ‘कैप्टेन कूल’ महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल (IPL T20) के अगले सीजन से पहले संन्यास ले लेंगे। लेकिन इन तमाम अटकलों पर चेन्नई सुपर किंग्स के मैनेजमेंट ने विराम लगा दिया है।

धोनी ही रहेंगे 2021 में कप्तान 

चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ (CEO, CSK) काशी विश्वनाथ ने इस बात कि घोषणा करते हुए कहा कि, आईपीएल (IPL T20)के अगले सीजन में भी महेंद्र सिंह धोनी ही टीम की कप्तानी करेंगे। एक इंटरव्यू में जब CSK के सीईओ से सवाल किया गया कि क्या धोनी आगे के सीजन में टीम की कमान संभालेंगे। इसके जवाब में सीईओ ने कहा,  “बिल्कुल, मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि धोनी 2021 में टीम की कप्तानी करेंगे। उन्होंने हमारे लिए 3 टाइटल जीते हैं। यह पहला साल है जब हम ‘प्लेऑफ’ (PLAYOFF) में क्वालिफाई नहीं कर पाए हैं। एक खराब साल का मतलब यह नहीं होता है कि हम सबकुछ बदल देंगे।

धोनी का निराशाजनक प्रदर्शन 

अबकी सीज़न, यानी सीज़न 13 (IPL T20, 2020) में महेंद्र सिंह धोनी के प्रदर्शन पर गौर करें तो ये साफ़ नज़र आता है कि बीते मुक़ाबलों की तुलना में अबकी बार उनका प्रदर्शन बुरा रहा है। सीज़न 2020 में अब तक खेले गए 12 मैचों में धोनी ने 118.15 स्ट्राइक रेट से 199 रन बनाए हैं। हालांकि, आईपीएल का अगला सीजन शुरू होने में तकरीबन 6 महीने का ही समय बचा है, लेकिन, 39 साल के हो चुके कप्तान धोनी के खराब फॉर्म की वजह से अगले सीजन में उनके खेलने पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। पर, चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ ने साफ़ कर दिया है कि, “हम इस सीजन में अपनी क्षमता के अनुसार नहीं खेल पाए। हमने वो मैच हारे जो हमें जीतने चाहिए थे, जिसकी वजह से हम पीछे चले गए। सुरेश रैना और हरभजन सिंह का सीजन से बाहर जाना और कोरोना के चलते टीम में कुछ असंतुलन आय़ा, जिसकी वजह से टीम को मुश्किलों का सामना करना पड़ा।”

कोच फ्लेमिंग ने कहा था ‘बुजुर्ग टीम’  

stephen-fleming

हालांकि चेन्नई सुपर किंग्स के CEO को अभी भी इस टीम और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर पूरा भरोसा है, लेकिन, टीम के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने इस बात को माना था कि CSK बुजुर्ग टीम हो रही है और टीम में उत्साह की कमी है। यानी, टीम में ज़्यादा उम्र के खिलाड़ी ही ज़्यादा हैं। कोच फ्लेमिंग ने कहा था कि, “अगर 3 साल की बात करें तो हम पहले साल जीते, पिछले वर्ष आखिरी गेंद पर हारे और हमें पहले से पता था कि खिलाड़ियों की बढ़ती उम्र के साथ इस सीजन में मुश्किल हो सकती है। इसके अलावा दुबई ने हमारे सामने कई चुनौतियां खड़ी कीं। बहरहाल, धोनी के चाहनेवालों को चेन्नई सुपर किंग्स के CEO के एलान से ख़ुशी तो ज़रूर मिली होगी, लेकिन अब देखना ये है कि महेंद्र सिंह धोनी का फैसला क्या होगा, क्योंकि धोनी चुपके से ऐसे फैसले ले लेते हैं।