Prithvi Shaw and Shubhman Gill

-विनय कुमार

भारत (India) और ऑस्ट्रेलिया (Australia) (India vs Australia) के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी (Border Gavaskar Trophy) के पहले डे-नाइट टेस्ट मैच (Pink Ball Cricket, Day-Night First Test Match, Australia vs India) के दूसरे दिन गेंदबाजों का कहर देखने को मिला। बल्लेबाजों से ज़्यादा गेंदबाजों ने एडिलेड (Adelaide Test Match India-Australia) के मैदान पर अपना जलवा दिखाया।

पहले टेस्ट मैच के पहले दिन टीम इंडिया ने 6 विकेट खोये थे। वहीं मैच के दूसरे दिन दोनों देशों के गेंदबाजों ने मिलकर कुल 15 विकेट गिर दिए। देखने वाली बात तो ये रही कि दूसरे दिन पिच पर सिर्फ 211 रन बने। शुक्रवार 18 दिसंबर 2020 को दूसरे दिन का खेल शुरू करने मैदान पर उतरी टीम इंडिया अपनी पारी में सिर्फ 11 रन जोड़ पाई और 4 विकेट खोकर ऑल आउट हो गई। वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम भी पहले सेशन में 2 विकेट खो चुकी थी।

भारत के घातक गेंदबाजों और फील्डिंग कर रहे खिलाड़ियों की चुस्ती मैच के दूसरे सेशन में ऑस्ट्रेलिया के 3 विकेट झटक लिए। और तीसरे सेशन में ऑस्ट्रेलिया के बाकी के 5 विकेट उड़ाकर ऑस्ट्रेलिया की टीम को ऑल आउट कर दिया। ऑस्ट्रेलिया सिर्फ़ 191 रन पर ऑल आउट हो गई।

टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 53 रनों की बढ़त के साथ दूसरी पारी खेलने मैदान ।आईं उतरी। दूसरे दिन का खेल खत्म होने से पहले 6 ओवर के भारत के सलामी बल्लेबाजों की जोड़ी क्रीज़ पर आईं। ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) एक बार फिर सुपर फ्लॉप साबित हुए। पृथ्वी 4 रन पर बोल्ड होकर पवेलियन लौट गए।

पृथ्वी शॉ पहली पारी में पैट कमिंस (Pat Cummins) की गेंद पर बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिए गए थे। और, दूसरी पारी में वो ऑस्ट्रेलिया के घातक गेंदबाज मिशेल स्टार्क का शिकार हुए। नोट करने वाली बात ये रही कि दोनों ही पारी में वो एक जैसे ही गेंद से बोल्ड हुए। दोनों ही बार उनके बल्ले और पैड के बीच के गैप से गेंद निकलकर विकेट में जा लगी और पृथ्वी क्लीन बोल्ड हो गए।

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) का लगातार दोनों पारियों में ठीक एक जैसी गेंद से आउट होना बताता है कि इस गेंद से खेलने के लिए उनमें तकनीक में कमी है। और ज़ाहिर है ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज उन्हें इसी तरह निशाना बनाते रहेंगे। क्योंकि, वो पृथ्वी की कमजोरी पकड़ चुके होंगे।

इस मैच में पृथ्वी फील्डिंग में भी फेल होते दिखे। पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने फील्डिंग के दौरान मार्नस लाबुशाने (Marnus Labuschegne) का एक आसान कैच छोड़ दिया। इन सभी तस्वीरों को देखने से एक बात साफ होती नजर आती है कि टीम इंडिया अगले मैच (Australia-India Second Test Match) में पृथ्वी शॉ को शायद ही मौका देगी। बल्कि, जो बात नजर आ रही है वो है कि, अगले टेस्ट मैच में इंटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू का इंतजार कर रहे शुबमन गिल (Shubman Gill) को ओपनिंग का मौका मिलना लगभग तय माना जा रहा है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ और 3 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। जिसमें टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की जगह टीम की कप्तानी अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) करेंगे। और हां, के.एल. राहुल का खेलना भी करीब-करीब तय है।