रोहित शर्मा का आकाश चोपड़ा को करारा जवाब, क्या बोले ?

– विनय कुमार

IPL T20, 2020 में मुम्बई इंडियंस (Mumbai Indians) ने एक बार फिर खिताब पर कब्ज़ा कर चैम्पियन बनी। आइपीएल के इतिहास में मुम्बई इंडियंस ने पांचवीं बार आइपीएल की ट्रॉफी जीती। टीम के कप्तान रोहित शर्मा आइपीएल के इतिहास में सबसे सफल कप्तान साबित हुए हैं। लेकिन पिछले दिनों मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा को लेकर टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मौजूदा कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने व्यंग्य कसा था और तीखा कमेंट किया था। आकाश चोपड़ा ने रोहित शर्मा की कप्तानी पर सवाल उठाते हुए कहा था कि क्या वो रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (RCB) की कप्तानी करते हुए भी आइपीएल की इतनी ट्रॉफी जीतने में कामयाब होते ? इस कटाक्ष को लेकर आखिरकार ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा ने चुप्पी तोड़ी है।  

रोहित शर्मा ने आकाश चोपड़ा को करारा जवाब दिया है। ‘आउटलुक’ से बातचीत में टीम इंडिया के धाकड़ बल्लेबाज़ और  मुम्बई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि ऐसी कोई वजह ही नहीं है कि वो मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) छोड़ किसी और टीम के लिये कप्तानी के बारे में सोचें। 

‘हिटमैन’ रोहित शर्मा ने मुबई इंडियंस (Mumbai Indians) के पिछले 8 साल में 5 बार चैम्पियन बनने को लेकर कहा कि टीम हर साल एक अच्छी रणनीति के साथ उतरती है। और यही वजह है कि उनकी टीम आईपीएल (IPL T20) में जीत हासिल करती है।

कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा के सवाल का जवाब देते हुए रोहित शर्मा ने कहा, ‘”पहले तो यह सवाल ही अजीब है, मुझे समझ नहीं आता कि मुझे किसी और टीम के लिये बतौर कप्तान ट्रॉफी जीतने के बारे में सोचना क्यों हैं ? मुंबई इंडियंस की टीम हर साल एक रणनीति के साथ उतरती है, कप्तान होने के नाते मैं उसका पालन करता हूं। मुंबई इंडियंस की टीम अपने हर खिलाड़ी पर भरोसा जताती है और उन्हें बाहर करने पर विश्वास नहीं करती।”

रोहित शर्मा की इस बात में दम तो है। क्योंकि, बीते 4 में कम से कम  मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) टीम में कोई बदलाव नहीं कि है, बल्कि, एक कोर टीम तैयार की है। हां, ख़ास तो ये भी है कि कीरॉन पोलार्ड 2010 से मुंबई इंडियंस का एक अहम हिस्सा हैं।

‘हिटमैन’ रोहित शर्मा ठंडे नहीं हुए। उन्होंने आगे और कहा। रोहित शर्मा ने आकाश चोपड़ा को मुंहतोड़ जबाव देते हुए कहा, “क्या मुंबई इंडियंस की टीम अचानक ही सबसे अच्छी हो गई। ऐसा बनने के पीछे सालों की मेहनत है। यह फ्रैंचाइजी अपने खिलाड़ियों को बाहर करने और टीम बदलने में विश्वास नहीं रखती। और यही कारण है, कि वो इतनी कामयाब बन सकी है। 

ग़ौरतलब है कि, रोहित शर्मा 2011 में मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) से जुड़े और उन्होंने बेहतरीन टीम बनाई।