SA women shock India, claim series with seven-wicket win in 4th ODI

पूनम ने मिताली के साथ तीसरे विकेट के लिए 103 रन जबकि हरमनप्रीत के साथ चौथे विकेट के लिए 88 रन की साझेदारी भी की।

    लखनऊ. लिजेल ली की अगुआई में शीर्ष चार बल्लेबाजों के अर्धशतक की बदौलत दक्षिण अफ्रीका की (India vs South Africa 4th ODI Match) महिला क्रिकेट टेस्ट ने पूनम राउत (Punam Raut) के नाबाद शतक पर पानी फेरते हुए चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को यहां भारत को सात विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 3-1 की विजयी बढ़त बना ली।

    भारत के 267 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम ने लिजेल (69), मिगनोन डु प्रीज (61), लारा गुडॉल (नाबाद 59) और कप्तान लॉरा वोलवार्ट (53) की पारियों की बदौलत आठ गेंद शेष रहते तीन विकेट पर 269 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। लिजेल ने लॉरा के साथ पहले विकेट के लिए 116 रन जोड़कर टीम को शानदार शुरुआत दिलाई जबकि डु प्रीज और गुडॉल ने भी तीसरे विकेट के लिए 103 रन की साझेदारी की।

    भारत ने शानदार फॉर्म में चल रही अनुभवी पूनम राउत के तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय शतक और हरमनप्रीत कौर के तूफानी अर्धशतक की बदौलत चार विकेट पर 266 रन बनाए। पिछले दो मैचों में अर्धशतक जड़ने वाली पूनम ने 123 गेंद में 10 चौकों की मदद से नाबाद 104 रन की पारी खेली। हरमनप्रीत ने भी 35 गेंद में सात चौकों और एक छक्के की मदद से 54 रन बनाए जबकि कप्तान मिताली राज ने 71 गेंद में 45 रन की पारी खेली।

    पूनम ने मिताली के साथ तीसरे विकेट के लिए 103 रन जबकि हरमनप्रीत के साथ चौथे विकेट के लिए 88 रन की साझेदारी भी की। मिताली अपनी इस पारी के दौरान एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 7000 रन पूरे करने वाली पहली महिला क्रिकेटर भी बनीं। दक्षिण अफ्रीका की ओर से तेज गेंदबाज टुमी शेखुखुने ने 63 रन देकर दो जबकि शब्निम इस्माइल और नोंदुमिसो शंगासे ने एक-एक विकेट चटकाया।

    लक्ष्य का पीछा करते हुए लिजेल और लॉरा ने भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ आसानी से रन बटोरे। दोनों ने नौवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया जबकि 20वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। लिजेल ने इस बीच हरमनप्रीत की गेंद पर दो रन के साथ 57 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसी गेंदबाज की गेंद पर पगबाधा हो गई। उन्होंने 75 गेंद का सामना करते हुए 10 चौके मारे।

    लॉरा ने पूनम यादव की गेंद पर एक रन के साथ 69 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि इसके बाद मानसी जोशी की गेंद पर विकेटकीपर सुषमा वर्मा को कैच दे बैठीं जिससे टीम का स्कोर दो विकेट पर 133 रन हो गया। लॉरा ने 78 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। डु प्रीज और गुडॉल ने इसके बाद पारी को संभाला।

    डु प्रीज ने शुरुआत से ही आक्रामक रवैया अपनाया जबकि गुडॉल सतर्क होकर खेली। डु प्रीज ने पूनम यादव की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा। गुडॉल 24 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रही जब दीप्ति शर्मा की गेंद पर सुषमा ने उन्हें स्टंप करने का मौका गंवा दिया। डु प्रीज ने राधा यादव पर लगातार तीन चौके मारे। उन्होंने सिर्फ 45 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। डु प्रीज ने मानसी पर दो और चौके मारे लेकिन राजेश्वरी गायकवाड़ की गेंद पर हरमनप्रीत को कैच दे बैठी।

    उन्होंने 55 गेंद का सामना करते हुए आठ चौके और एक छक्का मारा। गुडॉल ने इसके बाद मारिजेन केप (18 गेंद में नाबाद 22, तीन चौके) के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। गुडॉल ने 59 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और अपनी पारी में 66 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके मारे। इससे पहले भारत ने सलामी बल्लेबाजों स्मृति मंधाना (10) और प्रिया पूनिया (32) के विकेट जल्दी गंवा दिए। स्मृति को शब्निम जबकि प्रिया को शंगासे ने आउट किया।

    पूनम और कप्तान मिताली ने इसके बाद शतकीय साझेदारी करके पारी को संवारा। मिताली हालांकि अर्धशतक पूरा करने से चूक गई और शेखुखुने की गेंद पर शब्निम को कैच दे बैठी। मिताली के आउट होने के बाद हरमनप्रीत और पूनम ने तेजी से 88 रन बटोरे। हरमनप्रीत शुरू से ही अच्छी लय में दिखी और उन्होंने दो चौकों के साथ पारी की शुरुआत की। भारत के 200 रन 41वें ओवर में पूरे हुए। पूनम ने शब्निम पर थर्ड मैन पर चौके के साथ 90 रन के आंकड़े को पार किया।

    पारी के 46वें ओवर में मारिजेन कैप ने सिर्फ चार जबकि अगले ओवर में ऐन बोश ने सिर्फ पांच रन दिए जिससे रन गति पर कुछ अंकुश लगा। हरमनप्रीत ने 48वें ओवर में शेखुखुने पर छक्का और चौका मारा लेकिन ओवर की अंतिम गेंद पर बोल्ड हो गई। पूनम ने अगले ओवर में शब्निम की गेंद पर एक रन के साथ 119 गेंद में शतक पूरा किया।