पूर्व कप्तान के खिलाफ़ संगीन आरोप, मामला करीब 17 साल पुराना

    -विनय कुमार

    साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज थमी सोलेकिले (Thami Tsolekile) ने सोशल जस्टिस और नेशन बिल्डिंग के तहत की जाने वाली सुनवाई में हैरान करने वाला खुलासा किया है। दाएं हाथ के इस खिलाड़ी ने साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम के कप्तान ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith Captain South Africa) पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि स्मिथ कभी भी उन्हें टीम में शामिल नहीं करना चाहते थे। थमी सोलेकिले ने आज से करीब 17 साल पहले 2004 में साउथ अफ्रीका क्रिक्रेट टीम के लिए अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था। और उसके बाद उन्होंने अपने करियर में सिर्फ 2 टेस्ट मैच ही खेले। 40 साल के इस क्रिकेटर ने अपनी टेस्टॉमनी में SJN की वकील दुमिसा एत्सेबेजा और दो असिस्टेंटस के सामने अपना स्टेटमेंट दिया और बताया कि जब वो ‘वेस्टर्न प्रोविंस’ (Western Province U-13) की ‘अंडर-13’ टीम के की तरफ से खेलते थे, उस दौरा। कैसे  काले और सफेद लोगों के बीच भेदभाव (racism) किया जाता था।

    उन्होंने कहा कि 90 के दशक के अंतिम सालों में उन्हें ‘नेशनल ट्रेनिंग एकेडमी’ (National Training Academy) के किचन फ्लोर पर सोना पड़ता था, जबकि टीम के गोरे खिलाड़ी ज्यादा आरामदायक (comfortable) जगहों पर सोते थे। उन्होंने कप्तान ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith Captain South Africa) पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो मुझे कभी भी टीम (South Africa Cricket Team) में नहीं शामिल करना चाहते थे। गैरतलब है कि ग्रीम स्मिथ ने 2003 में साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम की कप्तानी की कमान संभाली थी। 

    थामी सोलिकले (Thami Tsolekile) ने टीम में शामिल नहीं किए जाने वाले प्रश्न पर जवाब देते हुए पूर्व सिलेक्टर लिंडा जोंडी (Linda Jondy) और एंड्रयू हडसन (Andrew Hudson) के साथ अपनी बातचीत का सबूत देते हुए कारण भी बताए। उन्होंने उन दिनों की बातों को याद करते हुए बताया कि जब मार्क बाउचर (Mark Boucher) को 2012 में न्यूज़ीलैड खिलाफ टेस्ट सीरीज (South Africa vs New Zealand Test Series 2012) में चोट लगी थी, तब सिलेक्टर्स की इस जोड़ी ने उन्हें 2013 में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक मैच में टीम में शामिल करने की घोषणा की थी। इस मैच में उनकी आंखों में गंभीर चोट भी लग गई थी। 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच से एक रात पहले एंड्रयू हडसन (Andrew Hudson) मेरे पास आए और कहा कि ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith Former Captain South Africa) नहीं चाहते हैं कि मैं उनकी टीम (South Africa) में खेलूं।

    इस दौरान जब पूछा गया कि ग्रीम स्मिथ को लेकर उनके अंदर इतनी नेगेटिव थॉट्स क्यों हैं ? इसपर उन्होंने कहा कि ‘क्रिकेट साउथ अफ्रीका’ (Cricket South Africa) की तरफ़ से ग्रीम स्मिथ को बतौर कप्तान जरूरत से ज्यादा पावर दिया गया था।

    उन्होंने कहा, “ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith) देश के एक बेहतरीन कप्तान थे। मेरी राय में उस व्यक्ति को CSA (Cricket South Africa) और उसके कोऑर्डिनेट्स की तरफ से जरूरत से ज्यादा ताकत दे दी गई थी। ग्रीम स्मिथ कभी भी मेरे करीबी दोस्त। close friends) नहीं थे। हम बस टीम में (South Africa Cricket Team) एक साथ थे। मुझे उनसे कभी भी परेशानी नहीं थी। मैं अंडर-19 टीम (U-19 Thami Tsolekile Captain) में उनका कप्तान था और डोमेस्टिक लेवल पर उनके खिलाफ भी खेला हूं। मुझे उनके साथ कोई भी ऐसी घटना याद नहीं है। यही वजह है कि यह बात और ज्यादा मुझे हैरान करती है कि मैंने इस व्यक्ति (Graeme Smith) के साथ ऐसा क्या किया, जिसने मेरे साथ ऐसा बर्ताव किया।”