Shafali Verma consolidates top spot in ICC T20 rankings

    होव. आक्रामक सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा से मिली अच्छी शुरुआत के बावजूद भारत रविवार को यहां दूसरे महिला टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में चार विकेट पर 148 रन तक ही पहुंच पाया। शेफाली (38 गेंदों पर 48 रन) और स्मृति मंधाना (16 गेंदों पर 20 रन) ने पहले विकेट के लिये 70 रन जोड़े लेकिन इन दोनों के बीच में धीमे पड़ने और फिर दो रन के अंदर पवेलियन लौटने से भारत दबाव में आ गया। कप्तान हरमनप्रीत कौर ने दो चौकों और दो छक्कों की मदद से 31 रन बनाये।

    दीप्ति शर्मा 27 गेंदों पर 24 रन बनाकर नाबाद रही। शेफाली को अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी करने में ज्यादा समय नहीं लगा। उन्होंने पहले सोफी एक्सलेस्टोन पर डीप मिडविकेट पर छक्का जड़ा और फिर कैथरीन ब्रंट के अगले ओवर में लगातार पांच चौके लगाये। टास गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित भारत का स्कोर चार ओवर के बाद बिना किसी नुकसान के 47 रन था लेकिन शेफाली अगली 11 गेंदों पर केवल एक रन बना पायी जिससे पावरप्ले में टीम 49 रन तक ही पहुंच पायी।

    मंधाना ने आठवें ओवर में सराह ग्लेन (32 रन देकर एक) पर मिडऑफ के ऊपर से छक्का जड़कर चुप्पी तोड़ी लेकिन फ्रेया डेविस (31 रन देकर एक) के अगले ओवर में उन्होंने धीमी गेंद पर कवर पर आसान कैच थमा दिया। हीथर नाइट ने गेंदबाजी में लगातार बदलाव किये और शेफाली अपना अर्धशतक पूरा नहीं कर पायी।

    उन्होंने ऑफ स्पिनर मैडी विलियर्स (नौ रन देकर एक) के पहले ओवर में ही ‘एक्रास द लाइन’ आकर बड़ा शॉट खेलना चाहा लेकिन नैट साइवर ने बेहतरीन कैच लपककर उनकी पारी का अंत कर दिया। अब हरमनप्रीत पर दारोमदार था। उन्होंने विलियर्स पर छक्का जड़कर अपने इरादे जतलाये लेकिन ग्लेन ने डेथ ओवरों से पहले ही हरमनप्रीत के तूफान को थाम दिया।

    पहली गेंद पर छक्का जड़ने के बाद अगली गेंद पर भी उन्होंने लंबा शॉट खेला लेकिन ब्रंट ने लांग ऑफ पर डाइव लगाकर उसे कैच में बदल दिया। भारत आखिरी चार ओवरों में अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाया। उसने इस बीच दो चौके और एक छक्का लगाया तथा ऋचा घोष (आठ) का विकेट गंवाया। स्नेह राणा आठ रन बनाकर नाबाद रही। साइवर ने चार ओवर में 20 रन देकर एक विकेट लिया। (एजेंसी)