indian team

    -विनय कुमार

    भारत और श्रीलंका के बीच अगली जुलाई में सीमित ओवरों (limited overs cricket match) की सीरीज (India vs Sri Lanka ODI T20I) होने जा रही है। यूं तो अभी इस पर आखिरी फैसला नहीं हुआ है, कि कोरोना महामारी की दूसरी खतरनाक संक्रमण (COVID-19 Pandemic) की लहर ये में सीरीज खेली जाएगी या नहीं। इसके साथ ही इस सीरीज में शामिल होने वाले खिलाड़ियों और क्रिकेट बोर्ड के बीच विवाद छिड़ गया है। श्रीलंका क्रिकेट टीम के कुछ खिलाड़ियों ने तो अपने देश के क्रिकेट बोर्ड को संन्यास लेने की धमकी तक दे डाली है। इस नए विवाद की जड़ है ‘नंबर बेस्ड ग्रेडिंग सिस्टम’ (Number based grading system Sri Lanka Cricket Board) है। यह सिस्टम खिलाड़ियों की सालाना कमाई नाप-जोख करता है।

    श्रीलंका के खिलाड़ियों की डिमांड क्या है ?

    श्रीलंका क्रिक्रेट टीम के खिलाड़ियों की बोर्ड से डिमांड है कि नई ग्रेडिंग सिस्टम को और ज्यादा पारदर्शी बनाया जाए और उन्हें उनके ग्रेड के आधार पर प्वाइंट्स दिए जाएं क्योंकि, इसका सीधा असर खिलाड़ियों की इनकम पर पड़ेगा। नई व्यवस्था के अनुसार खिलाड़ियों को 4 अलग-अलग ग्रुप में बांटा गया है। यह खिलाड़ियों के फिटनेस लेवल, अनुशासन, नेतृत्व क्षमता, टीम में उनके कुल योगदान और पिछले 2 साल में इंटरनेशनल और डॉमेस्टिक क्रिकेट में उनके प्रदर्शन पर आधारित होगा। 

    उनकी मांग है कि, बोर्ड यह बताए कि इसके लिए सिर्फ प्वाइंट्स कैसे और किस हिसाब से दिए जाएंगे, ताकि वे पूरी प्रक्रिया, ‘नंबर बेस्ड ग्रेडिंग सिस्टम’ (Number based grading system Sri Lanka Cricket Board), को और बेहतर तरीके से समझ सकें। इसके साथ संबंधित क्षेत्रों में सुधार कर सकें, जहां उनकी कमी है। लेकिन, इस मुद्दे को लेकर श्रीलंका क्रिकेट टीम के जिन खिलाड़ियों बोर्ड को संन्यास ले लेने की धमकी दी है, उनके नाम अभी सामने नहीं आए हैं।

    खिलाड़ी भी इस प्रक्रिया का हिस्सा बनाए जाएं

    खबरों के मुताबिक प्रतिनिधि निशान के मुताबिक, “हर खिलाड़ी (Srilankan Cricketers) चाहता है कि हम उसका हिस्सा बनें कि प्वाइंट्स कैसे दिए जाते हैं। पारदर्शिता (transparency and unity) एकजुटता को बढ़ाती है, और टीम के माहौल को अच्छा रखती है। इसमें सभी खिलाड़ी एकजुट (United) हैं।”

    इस मामले पर ‘श्रीलंका क्रिकेट मेनेजमेंट कमीटिक के सदस्य एशले डिसूजा (Ashley D’Souza) ने कहा, ”पूरी प्रक्रिया ‘नंबर बेस्ड ग्रेडिंग सिस्टम’ (Number based grading system Sri Lanka Cricket Board), को अंतिम रूप दिए जाने के बाद हम खिलाड़ियों के साथ इस मामले पर चर्चा करेंगे। अभी तक किसी खिलाड़ी को कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर करने के लिए नहीं कहा गया है।” 

    बहरहाल, ‘श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड’ (Sri Lanka Cricket Board) और श्रीलंका क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों के बीच बीते कुछ दिनों से ठनी हुई है। श्रीलंका टीम के सबसे अनुभवी और बेजोड़ ऑलराउंडर थिसारा परेरा (Thisara Pereira all rounder Sri Lanka Cricket Team) भी संन्यास लेने की घोषणा पहले ही कर चुके हैं।