sachin tendulakar

    अक्सर कहा जाता है कि रिकार्ड्स (Records) टूटने के लिए ही बनते हैं, लेकिन क्रिकेट (Cricket) के इतिहास में ऐसे कई रिकार्ड्स हैं, जिन्हें तोड़ पाना अब खिलाड़ियों के लिए बहुत मुश्किल का काम है। या फिर हम कह सकते हैं कि उन्हें तोडना अब नामुमकिन है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही रिकार्ड्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो बहुत ही रोचक भी हैं। तो चलिए जानते हैं…

    सचिन तेंदुलकर के 100 अंतरराष्ट्रीय शतक

    सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। साथ ही वह दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज भी हैं। उनके नाम कई रिकार्ड्स हैं, लेकिन एक ऐसा रिकॉर्ड है, जिसे तोड़ पाना अब बहुत मुश्किल है। वह रिकॉर्ड है 100 अंतरराष्ट्रीय शतक। अगर अब कोई खिलाड़ी यह रिकॉर्ड तोड़ता है तो वह ऐसा करने वाला दूसरा खिलाड़ी होगा। 

    सबसे लंबा टेस्ट मैच

    यह बात तो सभी जानते हैं की टेस्ट मैच सबसे ज़्यादा दिनों तक खेला जाता है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे टेस्ट मैच के बारे में बता रहे हैं, जो सबसे लंबा टेस्ट मैच है। यह मैच साल 1939 में डरबन में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच खेला गया था। जिसकी शुरआत 3 मार्च से हुई थी और यह 14 मार्च तक चला था। यह सबसे अनोखा रिकॉर्ड है। 

    एक ओवर में सबसे ज्यादा डिलीवरी

    क्रिकेट का ऐसा रिकॉर्ड जिसे कोई भी गेंदबाज अपने नाम नहीं करना चाहेगा। पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद सामी ने बांग्लादेश के खिलाफ एकदिवसीय मैच में 17 गेंदों का सबसे लंबा ओवर किया। उन्होंने एक ओवर में सात वाइड और 4 नो बॉल फेंकी। साथ ही इस ओवर में 22 रन आए थे। 

    विल्फ्रेड रोड्स का 52 साल की उम्र में संन्यास

    क्रिकेट में फिटनेस का सबसे ज़्यादा महत्व होता है। इसलिए सभी टीमों के खिलाड़ी फिटनेस पर खासा ध्यान देते हैं। वहीं क्रिकेटर्स लगभग 40 की उम्र तक संन्यास ले ही लेते हैं या फिर सिलेक्टर ही उन्हें बाहर का रास्ता दिखा देते हैं। लेकिन विल्फ्रेड रोड्स ने ऐसा कमाल किया कि वह टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी हैं। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट 52 साल की उम्र में खेला था।