Moeen Ali

    नई दिल्ली. बांग्लादेश की जानी मानी लेखिका तस्लीमा नसरीन ने इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोइन अली को लेकर एक विवादित बयान दिया हैं। जिसके बाद से मोइन और तस्लीमा सोशल मीडिया पर एक चर्चा का विषय बन गए हैं। साथ ही सोशल मीडिया यूजर्स तस्लीमा को जमकर ट्रोल कर रहे हैं।

    दरअसल इन दिनों मोइन अली चर्चा में है। क्योंकि उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स की जर्सी पर लगे बीयर के लोगों को हटाने की मांग की थी। हालांकि, बाद में इस पर उनकी मौजूदा IPL टीम CSK के CEO काशी विश्वनाथन ने कहा कि मोइन ने लोगो हटाने जैसी किसी चीज की मांग नहीं की है।

    मोइन अली पर तस्लीमा का विवादित बयान

    तस्लीमा नसरीन ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर मोइन पर निशाना साधा और लिखा, “मोइन अली अगर क्रिकेट नहीं खेल रहे होते तो वो सीरिया जाकर ISIS आतंकी बन जाते।”

    तस्लीमा सोशल मीडिया यूजर्स ने जमकर लताड़ा

    तस्लीमा ने मोइन पर निशाना साधते ही सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें जमकर लड़ाता है। साथ ही यूजर्स ने तस्लीमा को खिलाड़ी के फील्ड एचीवमेंट से जज करने की नसीहत दी। वहीं इस तरह के कमेंट को बर्दाश्त के बाहर बताया।

    IPL 2021 में CSK ने 7 करोड़ में खरीदा

    मोइन अली IPL 2020 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का हिस्सा थे। लेकिन, मिनी ऑक्शन के लिए RCB फ्रेंचाइजी ने उन्हें रिलीज कर दिया था, जिसके बाद IPL 2021 के लिए चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें 7 करोड़ की बोली लगाकर खरीदा।

    कौन है तस्लीमा नसरीन?

    तस्लीमा नसरीन एक बांग्लादेशी लेखिका है। जो अपने लेखन से अक्सर सुर्खियों में रहती हैं। 58 वर्षीय लेखक को उनके लेखन के कारण मुस्लिम समुदायों की ओर से जान से मारे जाने की धमकी भी मिल चुकी है। लेखन की वजह से तस्लीमा नसरीन को अपना देश तक छोड़ना पड़ा, जिसके बाद उन्हें स्वीडन की नागरिकता लेनी पड़ी।