WARNER

    विनय कुमार

    नयी दिल्ली. ‘आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप’ (ICC WTC) का पहला सीजन यानी पहला एडिशन समाप्त हो गया है। सफलतापूर्वक संपन्न हुए इस अहले एडिशन में न्यूजीलैंड चैंपियन बनी। इस बात से कोई भी नकार नहीं सकता कि  टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का पहला चैंपियन (ICC WTC’ 2019-21) न्यूजीलैंड ही है और सदैव यही रिकॉर्ड भी रहेगा। लेकिन पूरा सच कहीं और ज्यादा पेचीदा है।

    नॉकआउट टूर्नामेंट (Knockout Tournament) की सबसे बड़ी परेशानी यही होती है कि उस विशेष दिन के मैच में जो बेहतर खेलता है वही बाज़ीगर होता है।  इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैच खोने वाली टीम कितनी निरंतरता (consistency) के साथ जीत दर्ज करती आई है। हालांकि, इंग्लैंड में साउथेंप्टन के मैदान में टीम इंडिया का प्रदर्शन सचमुच उसकी क्षमता के अनुरूप नहीं था। निराशाजनक खेल था भारत की तरफ से, लेकिन भारतीय टीम ने ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP के तहत बीत 2 साल में खेले गए मैचों में जो निरंतरता टेस्ट क्रिकेट में दिखाई है वह काबिल ए तारीफ है।

    WTC TOURNAMENT सीजन वन में कोई भी कीवी बल्लेबाज टॉप-10 में नहीं

    आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप विजेता न्यूजीलैंड का एक भी बल्लेबाज ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP 2019-21 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की टॉप10 की लिस्ट में नहीं है। लेकिन, जब बात चैंपियनशिप के दौरान खेले गए सभी मुकाबलों में सर्वाधिक निजी रन स्कोरर यानी बल्लेबाज की आती है, तो यहां न्यूजीलैंड टीम के कप्तान बाज़ीगर हैं।

    कप्तान केन विलियमसन (Ken Williamson Captain New Zealand Cricket Team) टॉप-10 में दो बार आते हैं। केन विलियमसन ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ (NZ vs WI WTC) हैमिल्टन में 251 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी जो कि ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP 2019-21 के पहले एडिशन में चौथी सबसे ज्यादा रनों की पारी है। इसके अलावा केन विलियमसन ने पाकिस्तान के खिलाफ (Ken Williamson against Pakistan NZ vs PAK WTC 2019-21) क्राइस्टचर्च में 238 रन बनाए थे, जो कि 7वीं हाईएस्ट बैटिंग इनिंग (highest batting inning) है। 

    इस बल्लेबाज ने ठोकी पहले एडिशन में ट्रिपल सेंचुरी

    इस लिस्ट में बाजी मार जाते हैं ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner), जिनके नाम 335 रनों की नाबाद पारी है। और यह आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के पहले एडिशन में किसी भी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सर्वाधिक निजी स्कोर है। वार्नर ने यह बेमिसाल पारी 19 नवंबर 2019 में पाकिस्तान के खिलाफ (Australia vs Pakistan Adelaide Test Match 2019) एडिलेड में हुए टेस्ट मैच में खेली थी। उन्होंने 418 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 335 रनों की यादगार पारी खेली थी, जिसमें 39 जानदार चौके और एक शानदार छक्का शामिल था।

    हालांकि डेविड वॉर्नर (David Warner) इसके बाद ज्यादा रन बनाने में फिर कामयाब नहीं हो पाए, क्योंकि इतनी बड़ी पारी खेलकर भी ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP के पहले एडिशन (First Edition WTC) में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट में वे 9वें पायदान पर हैं। उन्होंने इस दौरान अपने खेले 12 टेस्ट मैचों में कुल मिलाकर 948 रन बनाए। डेविड वार्नर ने इन 12 मैचों में 3 शतक (David Warner Centuries in WTC) भी जड़े।

    भारतीयों में कोहली को बाजी, लाबुशेन भी टॉप-10 में नहीं

    जहां तक टीम इंडिया के सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की बात है तो कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) की नाबाद 254 रनों की पारी WTC First Edition में भारतीय टेस्ट खिलाड़ियों में सबसे ऊपर है। उन्होंने यह इनिंग पुणे में साउथ अफ्रीका (India vs South Africa Pune Test Match Virat Kohli) के खिलाफ खेली थी। अगर ICC WORLD TEST CHAMPIONSHIP TROPHY 2019-21 के पहले संस्करण के ‘ओवरऑल’ टॉप बल्लेबाज की बात की जाए, तो इसमें आस्ट्रेलिया के मार्नस लाबुशेन (Marnus Labushhagne) का नाम सामने आता है।

    क्योंकि, उन्होंने न सिर्फ सर्वाधिक 5 शतक लगाए, बल्कि वे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बने। मार्नस लाबुशेन (Marnus Labushhagne) ने 13 टेस्ट मैचों में 72.82 की औसत से 1675 रन बनाए। यही नहीं, सर्वाधिक अर्धशतक ठोकने के मामले में भी मार्नस लाबुशेन सबसे आगे रहे। उन्होंने इस WTC एडिशन में 9 शतक लगाए। हालांकि, लाबुशेन सर्वोच्च निजी स्कोर के मामले में TOP-10 में जगह नहीं बना पाए। उन्होंने WTC 2019-21 के समूचे चक्रव्यूह मैचों में जितने भी मैच खेले, उसमें उनका सबसे बड़ी पारी थी 215 रनों की, जो न्यूजीलैंड के खिलाफ उन्होंने बनाई थी।