Pakistan vs England

    -विनय कुमार

    पाकिस्तान को भारत से पंगा लेने का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। नतीजा यह नजर आ रहा है कि पाकिस्तान की क्रिकेट टीम इंग्लैंड में मैच तो खेलेगी, लेकिन पाकिस्तान में ही उन मैचों का प्रसारण नहीं होगा। गौरतलब है कि, साउथ एशिया में क्रिकेट मैचों के प्रसारण का अधिकार भारतीय ब्रॉडकास्टर्स ‘स्टार एंड एशिया’ (South Asia Cricket Match Broadcast) के पास है, लेकिन पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को लेकर भारतीय ब्रॉडकास्ट कंपनी के साथ किसी भी तरह का व्यापार या कॉन्ट्रैक्ट नहीं करने की बात कर रहा है।

    पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी (Fawad Chowdhury Information and Broadcast Minister Pakistan) ने आज मंगलवार, 8 जून को एलान किया कि भारतीय ब्रॉडकॉस्टर्स के साथ लाइसेंस विवाद होने के कारण पाकिस्तान के इंग्लैंड दौरे पर (Pakistan vs England 2021) होने वाले मैचों का प्रसारण पाकिस्तान में नहीं होगा। फवाद चौधरी ने इस्लामाबाद में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये बातें कहीं। पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच अगले महीने यानी, 8 जुलाई से 3 वनडे (PAK vs ENG ODI Series 2021) और 3 T20I (PAK vs ENG T20I Series) मैचों की सीरीज खेली जाएगी। कार्डिफ के सोफिया गार्डंस (Cardiff Sofia Gardens, England) में पहला मैच, लंदन के लार्ड्स में दूसरा और बर्मिंघम के एजबेस्टन में तीसरा वनडे मैच खेला जाएगा। नॉटिंघम, लीड्स और मैनचेस्टर में पहला, दूसरा और तीसरा T20I (PAK vs ENG T20I Series) मुकाबला होगा।

    इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच खेली जाने वाली ODI और T20I सीरीज के प्रसारण के अधिकार भारतीय प्रसारणकर्ता ‘स्टार एंड एशिया’ (Star and Asia) के पास हैं। पाकिस्तान के information andBroadcasting Minister फवाद चौधरी ने कहा,  “भारतीय फर्म्स के पास मैचों के पूरे साउथ एशिया में प्रसारण के अधिकार हैं। भारतीय प्रसारणकर्ताओं ‘स्टार एंड एशिया’ के साथ कॉन्ट्रैक्ट के लिए PTV (Pakistan Television) के ऑफर को ठुकरा दिया गया। हम किसी भी भारतीय फर्म के साथ कॉन्ट्रैक्ट नहीं कर सकते।”

    पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि सरकार एक समझौते पर पहुंचने की कोशिश कर रही है। ‘इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड’ (ECB) से संपर्क करेगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ तब तक कोई व्यापार नहीं करेगा, जब तक भारत सरकार (आर्टिकल 370 कश्मीर मामला) अपने 5 अगस्त के फैसले को उलट नहीं देता। भारत सरकार ने 5 अगस्त को कश्मीर के विशेष दर्जे (special status Kashmir Article 370) को निरस्त कर दिया था।

    फवाद चौधरी ने कहा, “भारत के साथ पाकिस्तान के संबंध तभी सामान्य होंगे जब 5 अगस्त के फैसले को भारत वापस ले। यही शर्त है हमारी।” उन्होंने यह भी कहा कि मैच के प्रसारण नहीं होने से ‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड’ (Pakistan Cricket Board) और पाकिस्तान टेलीविजन (Pakistan Television PTV) को बड़ा आर्थिक नुकसान होगा।