मैच के बाद धक्का-मुक्की करने वाले 5 खिलाड़ियों को ICC ने माना दोषी

पोचेफ्स्ट्रूम, रविवार को अंडर 19 वर्ल्ड कप (Under 19 World Cup)फाइनल के बाद भारत-बांगलादेश के खिलाड़ियों के बीच धक्का-मुक्की और बहस हुई थी। आईसीसी की तरफ से वीडियो फुटेज की जांच करने के बाद 5

पोचेफ्स्ट्रूम, रविवार को अंडर 19 वर्ल्ड कप (Under 19 World Cup)फाइनल के बाद भारत-बांगलादेश के खिलाड़ियों के बीच धक्का-मुक्की और बहस हुई थी। आईसीसी की तरफ से वीडियो फुटेज की जांच करने के बाद  5 खिलाड़ियों को दोषी पाया है। जिसमें बांग्लादेश के 3 खिलाड़ियों के नाम शामिल है। जिसमें शमीम हुसैन,राकिबुल हसन और मोहम्मद तॉहिद हिर्दॉय दोषी पाए गए है। वहीं भारत की ओर से रवि बिश्नोई और आकाश सिंह को दोषी है। इन सब पर लेबल 3 का चार्ज लगाया गया है ।

क्या हुआ था मैच के बाद
दोनों टीमों के खिलाड़ियों के बीच मैच के बाद जुबानी जंग धक्का-मुक्की में तबदिल हो गई थी। मैच में शुरुआत से ही दोनों टीमों के बीच तनातनी देखने को मिली। मैच के दूसरे ओवर में ही तंज़ीम हसन साकिब की थ्रो पर दिव्यांश सक्सेना बाल-बाल बचे। मानों ऐसा लग रहा था कि  साकिब जानबूझ कर सक्सेना के सिर पर हमला कर रहें है। साथ ही बांग्लादेश के गेंदबाज लगातार भारतीय बल्ल्बाजों को आउट होने पर अभद्र इशारे भी कर रहे थे। बांग्लादेश के कप्तान अकबर अली ने बाद में अपने खिलाड़ियों की इस हरकत पर माफी भी मांगी। मैच खत्म होने के बाद भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग ने कहा कि बांग्लादेशी खिलाड़ियों का काफी गंदा व्यवहार था।
 
‘व्यवहार बहुत गंदा था’
भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग ने कहा कि हम सहज थे. हमें लगता है कि हार-जीत खेल का हिस्सा है. कई बार आप जीतते हैं तो कई बार हार का सामना करना पड़ता है. मगर बांग्लादेश के खिलाड़ियों का व्यवहार गंदा था. मुझे लगता है कि ऐसा नहीं होना चाहिए था. मैच के दौरान भी बांग्लादेश के खिलाड़ी कुछ ज्यादा ही आक्रामकता दिखा रहे थे और हर गेंद के बाद भारतीय बल्लेबाज को कुछ ना कुछ लगातार कह रहे थे. बांग्लादेश के जीत के करीब पहुंचने के बाद भी खिलाड़ी कैमरे के सामने टिप्पणी करते देखे गए.