ganguly dhoni could never become wisden cricketer rohit also ignored

    -विनय कुमार

    भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का पहला ‘वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021’ (ICC World Test Championship Final 2021 IND vs NZ) का फाइनल हार गई। इस हार के साथ ही कप्तान कोहली का अपनी कप्तानी में भारत को कोई आईसीसी खिताब (ICC Trophy) दिलाने का सपना फिर अधूरा रह गया। हालांकि, विराट कोहली ही इंडियन क्रिकेट के इतिहास में एक कप्तान नहीं हैं, जिनका आईसीसी टूर्नामेंट जीतने और चैंपियन बनने का सपना टूटा हो। क्रिकेट का इतिहास बताता है कि सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ही ऐसे भारतीय कप्तान रहे हैं, जिनकी कप्तानी में भारत ने आईसीसी टूर्नामेंट जीते हैं और भारत चैंपियन बना है।

    यह गौर करने वाली बात है कि भारत को पहला वर्ल्ड कप दिलाने वाले टीम इंडिया के धुरंधर पूर्व कप्तान कपिल देव (Kapil Dev Former Captain Indian Cricket Team) का नाम इस लिस्ट में इसलिए नहीं शामिल है, क्योंकि 1983 में (ODI World Cup 1983) जब भारतीय क्रिकेट टीम ने वनडे वर्ल्ड कप जीता था, तब उसका आयोजन ICC के बैनर तले नहीं हुआ था।

    1987 से पहले हुए चारों वर्ल्ड कप (ODI World Cup) इंटरनेशनल क्रिकेट कॉन्फ्रेंस (International Cricket Conference) के बैनर तले आयोजित किए गए थे। क्रिकेट की वैश्विक संस्था की स्थापना 1909 में हुई थी, उस समय उस संस्था को ‘इम्पीरियल क्रिकेट कॉन्फ्रेंस’ (Imperial Cricket Conference) का नाम दिया गया था। उन दिनों इस बैनर के तले सिर्फ टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले देश ही मैच खेलते थे।

    1964 में इस संस्था से ‘नॉन टेस्ट प्लेइंग कंट्री’ (Non-Test playing Countries)  देशों को भी जोड़ा गया। उसी साल इस संस्था का नाम बदलकर ‘इंटरनेशनल क्रिकेट कॉन्फ्रेंस’ (International Cricket Conference) किया गया। 1984 में ‘एफिलिएट कैटेगरी ऑफ मेम्बरशिप’ (Affiliate Category of Membership) की सदस्यता दी गई, जिसमें इटली इसका पहला मेंबर बना। उसके बाद 1985 में स्विट्जरलैंड भी इससे जुड़ा। 1987 में बहामास और फ्रांस को भी सदस्यता दी गई। 1988 में नेपाल भी इससे जुड़ा। जुलाई 1989 में हुई बैठक में ‘इंटरनेशनल क्रिकेट कॉन्फ्रेंस’ (International Cricket Conference) संस्था का नाम बदलकर इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) कर दिया गया। इसके साथ ही मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (Marylebone Cricket Club MCC) अध्यक्ष के स्वतः ही क्रिकेट के वैश्विक संस्था के अध्यक्ष बनने की प्रक्रिया को भी निरस्त कर दिया गया।

    क्रिकेट की वैश्विक संस्था को ICC का नाम मिलने के बाद से भारतीय क्रिकेट टीम ने अब तक 8 बार ICC Men’s ODI World Cup, 8 बार ‘आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी’ (ICC Champions Trophy) और और 6 बार ‘आईसीसी T20 वर्ल्ड कप’ (ICC T20 World Cup) में हिस्सा ले चुका है। क्रिकेट का इतिहास बताता है कि, भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन (Mohammed Azharuddin Former Captain Indian Cricket Team) ने वनडे वर्ल्ड कप (ICC ODI World Cup) में 3 बार भारतीय टीम की कमान संभाली, लेकिन एक बार भी देश के नाम खिताब नहीं कर पाए। 1998 में उन्होंने ‘चैम्पियंस ट्रॉफी’ में भी भारत के कप्तान वे ही थे, लेकिन उनकी झोली में ICC Trophy नहीं आ पाई।

    टीम इंडिया के दमदार कप्तान ‘दादा’ सौरव गांगुली (Sourav Ganguly Former Captain Indian Cricket Team) ने 4 बार (एक ODI वर्ल्ड कप, 3 बार चैम्पियंस ट्रॉफी) में टीम इंडिया की कप्तानी की। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम 2002 में श्रीलंका के साथ संयुक्त विजेता (Joint Winners India and Sri Lanka 2002) बनी। गांगुली की कप्तानी में ही 2003 में भारत ‘आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप’ (ICC ODI World Cup 2002) के फाइनल में पहुंचा था। हालांकि, उस ऐतिहासिक खिताबी मुकाबले में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

    राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid Former Captain Indian Cricket Team) की कप्तानी में भी टीम इंडिया एक बार आईसीसी इवेंट में दस्तक दे चुकी है, ‘आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2007’ में। लेकिन उनकी कमान में भी उस समय भारत चैंपियन नहीं बन पाया था। अब टीम इंडिया के मौजूदा कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की बात की जाए तो वे भी आईसीसी के टूर्नामेंट में तीन बार भारतीय टीम की कप्तानी कर चुके हैं, लेकिन उनकी झोली में अब तक एक बार भी आईसीसी इवेंट्स की कोई खिताब नहीं आई है। 

    गौरतलब है कि, क्रिकेट की दुनिया के ‘कैप्टेन कूल’ महेंद्र सिंह धोनी (Captain Cool MS Dhoni) सबसे ज्यादा आईसीसी टूर्नामेंट जीतने वाले भारत के कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने ICC के 10 इवेंट में हिस्सा लिया, जिसमें 3 बार (2007 T20 वर्ल्ड कप, 2011 ODI वर्ल्ड कप, 2013 चैम्पियंस ट्रॉफी) उन्होंने खिताबी मुकाबले जीते और भारत का नाम रोशन किया। धोनी भारतीय टीम को चैंपियन बनाने में कामयाब रहे हैं। भारतीय क्रिकेट का इतिहास बताता है कि आईसीसी टूर्नामेंट्स में महेंद्र सिंह धोनी (MSD) ही भारत के सबसे सफल कप्तान रहे हैं। उनके बाद, दूसरे नंबर पर सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) हैं।