IPL 2020: Captain Kohli could not match his established standards with the bat: Gavaskar
File

– विनय कुमार

IPL T20, 2020 यानी आईपीएल के 13वें सीज़न शुरुआती मैचों में किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) का प्रदर्शन काफी निराशाजनक था। जिसके कारण इस टीम आगे का सफर तय करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। लेकिन, अचानक टीम में एक नई ऊर्जा का संचार मानें, की पिछले कुछ मैचों से टीम में धार आ गई है और लगातार एक के बाद एक मैच जीत दर्ज रही है। 

हालांकि, KXIP धुरंधर बल्लेबाज़ के.एल.राहुल जबरदस्त फॉर्म में हैं और अबकी सीज़न सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में टॉपर हैं, टीम के बेहतरीन कप्तान के तौर पर भी साबित हुए हैं। यही नहीं बेहतरीन बल्लेबाज़ होने के साथ बतौर विकेटकीपर भी के.एल.राहुल टीम की जीत में ख़ास रोल अदा कर रहे हैं। 

KXIP की जबरदस्त वापसी

क्रिकेटप्रेमियों को इस बात की पूरी जानकारी होगी ही कि अबकी सीज़न का पहला मैच किंग्स इलेवन पंजाब की टीम सुपर ओवर में हार गई थी। लेकिन, कप्तान के.एल.राहुल ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के खिलाफ भिड़ंत में शानदार शतक लगाया और टीम को पहली जीत दिलाई। यही नहीं IPL T20 टूर्नामेंट 2020 सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं। अगर शुरुआत की 7 मैचों की बात की जाए तो किंग्स इलेवन पंजाब KXIP आईपीएल 2020 के पॉइंट्स टेबल में सबसे नीचे थी और उसके पास सिर्फ 2 अंक थे, ऐसे में हर किसी को लग रहा था कि पंजाब की टीम का इस बार के आईपीएल में सफर लगभग खत्म हो गया है। लेकिन, टीम की किस्मत खुली और कप्तान के.एल.राहुल के शानदार नेतृत्व में पूरी टीम बेहतरीन प्रदर्शन के साथ आगे बढ़ती ईं।

कोच और कप्तान ने टीम में भरा जोश  

इसमें कोई दो राय नहीं थी कि किंग्स इलेवन पंजाब की हालत पस्त थी, लेकिन कप्तान के.एल.राहुल और कोच अनिल कुंबले ने उम्मीदें नहीं छोड़ी थी, दोनों ने टीम में कुछ खास बदलाव किए। ये बदलाव कारगर साबित हुए और टीम अभी भी ‘ की रेस में बनी हुई है। 

आज सोमवार, 26 अक्टूबर किंग्स इलेवन पंजाब का कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुकाबला है। आज की भिड़ंत दोनों ही टीम के लिए ‘प्लेऑफ’ में जाने को लेकर अहम है। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान, क्रिक्रेट के महारथी और मौजूदा कमेंटेटर सुनील गावस्कर का मानना है कि किंग्स इलेवन पंजाब की टीम में इतना बड़ा बदलाव टीम के कोच अनिल कुंबले की वजह से देखने को मिला है और तभी यह टीम फिर से लय में लौट पाई है।

 बतौर कप्तान बेहतरीन बल्लेबाज़ी: गावस्कर 

सुनील गावस्कर ने कहा कि, “पंजाब की टीम जीत की राह पर है, शुरुआत में वो रास्ता भटक गए थे। जब भी वो जीत के करीब पहुंचे तो मैच सुपर ओवर में गया, इसके बाद वो मैच हार जाते थे। लेकिन आगे चलकर टीम ने जीत का रास्ता खोजा, जिसकी बदौलत पिछले मैचों में टीम ने जीत दर्ज की, टीम ने जबरदस्त क्रिकेट खेला। पिछले मैच में टीम ने 126 रन के स्कोर को डिफेंड किया, टीम में काफी भरोसा और आत्मविश्वास लौटा है। के.एल. राहुल की अगुवाई में टीम जबरदस्त कर रही है। बतौर कप्तान के.एल.राहुल काफी बेहतर हुए हैं, सामान्य बल्लेबाज की तुलना में बतौर कप्तान उन्होंने काफी रन बनाए हैं। वह जबरदस्त फील्ड प्लेसिंग कर रहे हैं, बेहतर गेंदबाजी में परिवर्तन कर रहे हैं, क्रिस जॉर्डन को भी 19वें ओवर में मौका दे रहे हैं, अर्शदीप पर भरोसा कर रहे हैं और 14 रन बचाने के लिए उन्हें आखिरी ओवर थमा रहे हैं।”

कुंबले भी गजब के  

सुनील गावस्कर ने कहा कि, “यह नहीं भूलना चाहिए कि अनिल कुंबले की भूमिका इसमे काफी अहम है। अनिल कुंबले अपने क्रिकेटिंग करियर में फाइटर रहे हैं, आपने उन्हें देखा होगा जब वह टूटा जबड़े के साथ मैदान में पट्टी बंधवाकर गेंदबाजी करने आए, वही भावना पंजाब की टीम के भीतर देखने को मिली है। यही वजह है कि पंजाब की टीम ने वापसी की और असंभव स्थिति से खुद को बाहर निकाला और अब टीम ‘प्लेऑफ की रेस में आ गई है।”