Why is it difficult for 'Daddy Army-csk -to win the trophy-sunil-gavaskar

सुनील गावस्कर ने कहा,चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को हमेशा “डैड आर्मी” कहा गया.

महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर का मानना है कि सुरेश रैना और हरभजन सिंह की कमी पूरे टीम को खलेगी. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की टीम 19 सितंबर 2020 से अपने आईपीएल (IPL) का बिगुल फूंकेगी. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) चौथी बार आईपीएल (IPL) खिताब जीतने के इरादे और हौसले के साथ मैदान में उतरेगी.

हालांकि सुनील गावस्कर ने एक बड़ा ही अहम् बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए इस सीजन में आईपीएल (IPL) का खिताब जीतना काफी मुश्किल हो सकता है. गावस्कर ने कहा कि चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की टीम में उम्रदराज खिलाड़ी ज़्यादा हैं. हाँ, एक बात ये भी है कि अनुभवी प्लेयर टी20 क्रिकेट में अहम भूमिका निभा सकते हैं. लेकिन, यूथ और अनुभव का अच्छा कॉम्बिनेशन होना चाहिए, तभी एक टीम कामयाब होती है.

सुनील गावस्कर ने कहा,चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को हमेशा “डैड आर्मी” कहा गया,  क्योंकि उनकी टीम में सीनियर खिलाड़ियों की संख्या काफी अधिक है. अगर आप उनकी उम्र देखें तो कई सीनियर प्लेयर टीम में हैं. मैंने हमेशा यही कहा है कि अगर आपकी टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है तभी आप सफल होंगे. क्या उनके पास ऐसे युवा प्लेयर हैं जिनकी एनर्जी पूरे टीम के माहौल को बदल सके. ये एक बड़ा सवाल है. इसी वजह से मेरा मानना है कि इस सीजन चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को आईपीएल (IPL) की खिताब जीतने में काफ़ी मुश्किल होगी.

रैना और हरभजन की कमी चेन्नई सुपर किंग्स को खलेगी:
‘लिटिल मास्टर’ सुनील गावस्कर का मानना है कि सुरेश रैना और हरभजन सिंह के टीम से बाहर रहने से चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को बड़ा झटका लगा है. उनके मुताबिक इस सीजन इन दोनों खिलाड़ियों की भरपाई करना बेहद मुश्किल है और टीम को इनकी कमी ज़रूर महसूस होगी.

सुनील गावस्कर ने कहा,अगर चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की टीम को देखें तो उनके दो बड़े प्लेयर पहले ही बाहर हो चुके हैं. सुरेश रैना और हरभजन सिंह काफी अनुभवी खिलाड़ी हैं, और इनकी भरपाई करना आसान नहीं होगा. ये सीएसके (CSK) चेन्नई  टीम के लिए एक बड़ा झटका है. हाँ, एक बात ज़रूर है कि, ये टीम में मौजूद युवा खिलाड़ियों के लिए बेहतर प्रदर्शन करने का अच्छा मौका है.

-विनय कुमार