I am representation of new India: Virat Kohli

– विनय कुमार 

  • आज भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट 

सीरीज (Border-Gavaskar Trophy Test Series, 2020-2021) के पहले मैच में दो शानदार खिलाड़ी के नहीं खेलने का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

आज भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच बहुप्रतिक्षित टेस्ट सीरीज का पहला मैच है। भारतीय समयानुसार सुबह 9.30 बजे ऑस्ट्रेलिया के एडिलेड (Adelaide) में खेले जा रहे डे नाईट (Day-Night Test Match, IND vs AUS, 2020) का आगाज़ होगा, जिसका सीधा प्रसारण 120 देशों में किया जाएगा। ये टेस्ट मैच पिंक बॉल के साथ खेला जाएगा। इस (Pink Ball Test match) मैच के लिए टीम इंडिया ने अपनी ‘प्लेइंग इलेवन’ (Playing-XI) की घोषणा भी कर दी।

डे-नाइट (DAY-NIGHT TEAT MATCH) फॉर्मेट में हो रही इस भिड़ंत में टीम इंडिया के ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा (Rohit Sharma) बतौर सलामी बल्लेबाज नहीं होंगे। अटकलें लगाई जा रही थीं कि रोहित शर्मा की जगह शुबमन गिल (Shubman Gill) को एडिलेड (Adelaide Test Match, 2020) में खेले जाने वाले पहले टेस्ट मैच में ओपनिंग का मौका मिलेगा। लेकिन नहीं हुआ। 

करीब साल भर से टेस्ट क्रिकेट (Test Cricket) में डेब्यू (Debut) का इंतजार कर रहे शुबमन गिल का इंतजार और लंबा हो गया है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने पहले ‘पिंक बॉल टेस्ट मैच’ (pink ball Test Cricket) के लिए जिस टीम का ऐलान किया है उसकी प्लेइंग इलेवन (Playing-XI) में शुबमन गिल की जगह पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और विकेटकीपिंग में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की जगह ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) को शामिल किया गया है।

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने जो फैसला लिया है, वो भारत पर कितना भारी पड़ सकता है, इसका अंदाज़ा बीते समय में आंकड़ों को देखते हुए समझ जा सकता है। टीम इंडिया ने आज के पहले टेस्ट मैच के शुरू होने से पहले 2 प्रैक्टिस मैच खेले। जिसमें  पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने 0, 19, 40 और 3 रनों की 4 पारियां खेली। जबकि, शुबमन गिल (Shubman Gill) ने 0, 29, 43 और 65 रनों की बेहतरीन पारी खेली।

इस हक़ीक़त के बावजूद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने एडिलेट टेस्ट (Adelaide Test Match India-Australia Series, 2020) में शुबमन गिल की बजाय पृथ्वी शॉ को मौका दिया। पृथ्वी शॉ के ताज़ा प्रदर्शन की बात की जाए तो एक बात ये सामने आती है कि अबकी सीज़न के आइपीएल (IPL T20, 2020) में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा। उन्होंने 13 मैचों में 17.53 की औसत से सिर्फ़ 228 रन ही बनाए। वहीं  दूसरी तरफ, ऋद्धिमान साहा (Riddhiman Saha) ने प्रैक्टिस मैच में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़  0, 54* और 0 रन की पारियां खेली।

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की बात की जाए तो , एक तस्वीर ये भी सामने आती है कि, अबकी सीज़न के  आईपीएल (IPL T20, 2020) में उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं था। हां,  लेकिन फ़ाइनल मैच में शानदार अर्धशतकीय पारी खेलकर उन्होंने खोया हुआ फॉर्म पाया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रैक्टिस मैच में उन्हें एक ही मैच में मौका मिला। जिसमें उन्होंने 5 और नाबाद 103 रनों की बेहतरीन पारी खेली। गौर करने वाली बात तो ये है कि चोट से उबरकर वापसी करने वाले ऋद्धिमान साहा की तुलना में ऋषभ पंत टेस्ट टीम के लिए अच्छा  विकल्प होते।

अब देखना ये है कि कप्तान विराट कोहली के शुभमन गिल और ऋषभ पंत को ‘पिंक बॉल टेस्ट मैच’ में शामिल नहीं करने के फैसले का क्या परिणाम सामने आता है। ये फैसला भारत पर भारी पड़ेगा या विराट बाज़ी मार ले जाएंगे, बहुत जल्द पता चल जाएगा। ग़ौरतलब है कि, ऑस्ट्रेलिया ने अब तक 7 पिंक बॉल टेस्ट मैच खेल चुका है और एक बार भी हारा नहीं है।