Satyendra-Jain

    नयी दिल्ली: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन (Delhi Health Minister Satyendra Jain) ने बताया कि बुधवार तक राष्ट्रीय राजधानी में ब्लैक फंगस के 1,044 मामले आए हैं जबकि इस संक्रमण से 89 लोगों की मौत हुई है। इस संक्रमण के इलाज के लिए दवाइयों की कमी की ओर इशारा करते हुए उन्होंने बताया कि अभी तक 92 लोग ब्लैक फंगस से मुक्त हुए हैं। 

    दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने बुधवार को कहा कि दिल्ली सरकार अगर तय समय सीमा के भीतर लोगों को कोवैक्सीन टीके के दोनों डोज नहीं लगा सकती है तो उसे ‘‘इतने शोर शराबे के साथ” ढेर सारे टीकाकरण केन्द्र शुरू नहीं करने चाहिए थे। 

    जैन ने पत्रकारों से कहा, ‘‘केन्द्र से प्राप्त कार्यक्रम के आधार पर टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था लेकिन उन्होंने कार्यक्रम में बदलाव कर दिया। अगर कोवैक्सीन की आपूर्ति होती रहती, तो हमने लोगों को टीके का दूसरा डोज लगाया होता। हम जल्द से जल्द टीका प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं।” दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 576 नए मामले आए हैं और बुधवार को शहर में संक्रमण की दर 0.78 प्रतिशत थी। 

    मंत्री ने कहा, ‘‘संक्रमण के नये मामलों में कमी आ रही है। एक समय था जब नये मामलों की संख्या 28,000 तक पहुंच गयी थी। जब मामले कम थे तो उसकी संख्या 150-200 थी, और उसके मुकाबले अब भी नये मामलों की संख्या ज्यादा है। लोगों को मास्क लगाना, दो गज की दूरी का पालन करना चाहिए।” (एजेंसी)