Surgical Gloves
File Photo

    नयी दिल्ली: नीरज बवाना गिरोह का सदस्य बताकर कारोबारी से 10 लाख रुपये की कथित तौर पर वसूली करने के आरोप में 28 वर्षीय एक युवक को गिरफ्तार किया गया है और दो किशोरों को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि दोनों किशोरों ने साहिल शूटर के नाम से इंस्टाग्राम पर एक प्रोफाइल बनाया और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इसी तरह के अकाउंट को फॉलो करना शुरू कर दिया। 

    पुलिस ने मुताबिक दोनों स्कूल के दोस्त मामले के तीसरे आरोपी रोहित भारद्वाज से इंस्टाग्राम पर संपर्क में आए और उसके साथ चैट करने लगे। बातचीत के दौरान भारद्वाज ने पश्चिम विहार में एक आईटी कंपनी चलाने वाले शख्स के विवरण साझा किए और नीरज बवाना गिरोह का सदस्य बताकर उससे 10 लाख रुपये की वसूली करने की साजिश रची। 

    उन्होंने बताया कि मंगलवार को, कारोबारी अपने कार्यालय में था जब उसे एक आरोपी की तरफ से इंटरनेट से की गई कॉल (वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल) आई जिसने खुद को नीरज बवाना गिरोह का सदस्य बताया और 10 लाख रुपये मांगे। आरोपी ने उसे शाम तक पैसों का इंतजाम नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दी। 

    पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) उर्विजा गोयल ने बताया कि कारोबारी ने पश्चिम दिल्ली के पंजाबी बाग पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद एक मामला दर्ज किया गया और मामले की जांच के लिए टीम गठित की गई। 

    उन्होंने बताया कि भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया गया और दोनों किशोरों को मंगलवार को अलीपुर से हिरासत में लिया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के मोबाइल फोन और एक कार जब्त की गई है। (एजेंसी)