Delhi Police arrested four wanted miscreants after encounter

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने उत्तर पश्चिम दिल्ली के रोहिणी में मुठभेड़ के बाद चार वांछित बदमाशों को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान सोनू मित्राण (23), अमित (26), रोहित (23) और रवींद्र यादव (31) घायल हो गए। उन्होंने बताया कि वे काला झत्री लॉरेंस बिश्नोई गिरोह से संबंधित थे और हत्या, हत्या की कोशिश एवं जबरन वसूली के कई मामलों में वांछित थे।

दिल्ली पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) संजीव कुमार यादव ने कहा, ‘‘हमारे दल को सूचना मिली थी कि दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में हत्या, हत्या की कोशिश, गोलीबारी, जबरन वसूली और लूटपाट के कई मामलों में वांछित गिरोह के बदमाश अपने प्रतिद्वंद्वियों को समाप्त करने के लिए हरियाणा से रोहिणी आएंगे।” उन्होंने बताया कि तड़के करीब साढ़े तीन बजे गिरोह के सदस्य केरा गांव इलाके से एक कार में आते पाए गए।

उन्हें रुकने का संकेत दिया गया, लेकिन उन्होंने बचकर भागने की कोशिश की। हालांकि पुलिस बल रास्ता अवरुद्ध कर उन्हें रोकने में सफल रहा। अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान उन्होंने हथियार निकाले और पुलिस दल पर गोलीबारी शुरू कर दी। उन्होंने तीन राउंड गोलियां चलाईं। हालांकि गोलीबारी में कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘बदमाशों ने कुल 22 गोलियां चलाई, जबकि पुलिस दल ने अपने हथियारों से 28 गोलियां चलाईं।”

डीसीपी ने बताया कि चारों बदमाशों को गोलियां लगी हैं और पुलिस उन्हें काबू करके रोहिणी स्थित बीएसए अस्पताल ले गई। पुलिस ने बताया कि बदमाशों के पास से 50 कारतूस के साथ चार स्वचालित पिस्तौल, 10 कारतूस के साथ दो देशी पिस्तौल, तीन उच्च गुणवत्ता वाली बुलेटप्रूफ जैकेट और उच्च गुणवत्ता वाले बुलेटप्रूफ तीन हेलमेट मिले। उन्होंने बताया कि उनके वाहन को जब्त कर लिया गया है और इस मामले में कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गई है।(एजेंसी)