Former policemen arrested in murder case of two women, searches lead to 14 more dead bodies
Representative Image

    नई दिल्ली: रिश्तों में खटास आने के बाद लोग हत्या करने की साजिश रच देते हैं। उन्हें ऐसा लगता है कि वो बेहद ही आसानी से इसे अंजाम दे देंगे और किसी को पता भी नहीं चलेगा। दिल्ली (Delhi) से सामने आया ताजा मामला भी कुछ ऐसा ही है। जहां एक रियल एस्टेट कारोबारी वरुण अरोड़ा ने पत्नी, सास, ससुर और साली को जान से मारने के लिए ऐसी खौफनाक साजिश रची की हर कोई सुनकर अब हैरान है। दरअसल कारोबारी ने मर्डर की प्लानिंग इराक के तानाशाह सद्दाम हुसैन (Saddam Husain) द्वारा अपने विरोधियों के मारने की कहानी के तहत रची। दरअसल हुसैन अपने राजनीतिक विरोधियों को मारने के लिए थैलियम (Thallium) नामक विषाक्त पदार्थ का इस्तेमाल करता था। 

    बता दें कि इसी के तहत दिल्ली के करोबारी ने अपनी सास, ससुर, पत्नी और साली को फरवरी महीने में मछलियों के साथ खाने में थैलियम परोस दिया। मछली में थैलियम खाने के बाद हाल ही में सास, साली की मौत हो गई। जबकि पत्नी कोमा में चल रही है। आरोपी को लगा था कि उसकी इस करतूत का किसी को पता नहीं चलेगा लेकिन उसका यह राज पुलिस ने जांच के बाद खोल दिया। 

    उल्लेखनीय है कि दामाद की इस खौफनाक साजिश का खुलासा तब हुआ जब उसके ससुर और दवाईयों के निर्माता पुलिस के पास पहुंचे और बताया कि गंगा राम अस्पताल में उनकी पत्नी की मौत हुई है। उन्होंने अपने दामाद को हत्या के लिए जिम्मेदार करार दिया। ससुर ने फरवरी महीने के उस वाकये का भी जिक्र पुलिस के सामने किया। जब आरोपी ने सभी को मछलियां बनाकर खिलाई थी। ससुर नें यह भी बताया कि उसनें मछली न खुद खाई न ही बच्चों को दी। 

    ससुर की शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। सबसे पहले पुलिस ने मृतक सास का पोस्टमार्टम कराया जिसमें थैलियम की भारी मात्रा का पता चला। फिर पुलिस ने पत्नी का भी मेडिकल टेस्ट कराया। जिसमें भी इसी चीज की पुष्टि हुई। फिर पुलिस ने आरोपी दामाद को गिरफ्तार कर लैपटॉप को कब्जे में लिया और जांच की तो पता चला कि उसनें सद्दाम हुसैन से जुड़ा कंटेंट पढ़ा था कि वह कैसे अपने विरोधियों का काम तमाम करता था।