earthquake

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में गुरुवार देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए है। भूकंप के झटके नोएडा, गाजियाबाद और गुरुग्राम तक महसूस किये गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.2 थी और इसका केंद्र गुरुग्राम से 48 किलोमीटर दूर दक्षिण-पश्चिम में था। फिलहाल किसी के जान-माल की हानि की जानकारी सामने नहीं आई है।

भूकंप के झटके 11:45 बजे के करीब महसूस किए गए।

ग़ौरतलब है कि 2 दिसंबर को सुबह 04:05 बजे के करीब दिल्ली-एनसीआर में हल्के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.7 थी और इसका केंद्र गाजियाबाद में था।

ज्ञात रहे कि इस साल दिल्ली-एनसीआर में कई बार भूकंप के झटके महसूस किये गए। अप्रैल के बाद दिल्ली-एनसीआर में 15 से ज्यादा बार भूकंप के झटके महसूस किये गए। इस दौरान भूकंप का केंद्र दिल्ली के आसपास के इलाकों में ही था। बार-बार भूकंप के झटकों से लोगों में भय है।

भूकंप का इतिहास

विभिन्न भूकंप का इतिहास बताता है कि दिल्ली-एनसीआर में 1720 में दिल्ली में 6.5 तीव्रता का भूकंप आया था। मथुरा में सन 1803 में 6.8 तीव्रता, सन 1842 में मथुरा के पास 5.5 तीव्रता, बुलंदशहर के पास 1956 में 6.7 तीव्रता, फरीदाबाद में 1960 में 6 तीव्रता और मुरादाबाद के पास 1966 में 5.8 तीव्रता का भूकंप आया था। दिल्ली-एनसीआर की पहचान दूसरे सर्वाधिक भूकंपीय खतरे वाले क्षेत्र के रूप में की गई है।