Thane: 300 extra beds in Corona hospitals

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली को कोरोना (Corona Virus) के बढ़ते संकट को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय (Central Home Ministry) एक्शन मोड़ पर आगया है. कोरोना के प्रसार को रोकने गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के निर्देशों का पालन शुरू हो गया है. जिसके तहत सप्ताह के अंत तक छतरपुर में COVID केयर सेंटर में 500 आइसोलेशन बेड को ऑक्सीजन की सुविधा वाले बेड में बदला जाएगा. इस बात की जानकारी गृहमंत्रालय ने गुरुवार को दी.

दिल्ली में 75 डॉक्टरों और 251 पैरामेडिक्स स्टाफ की तैनाती 

गृह मंत्रालय ने कहा, “दिल्ली के चिकित्सा बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए, 75 डॉक्टरों और सीएपीएफ से 251 पैरामेडिक्स स्टाफ को तैनात किया गया है. छतरपुर और शकूर बस्ती COVID देखभाल केंद्र पर 50 डॉक्टर और 175 पैरामेडिक्स तैनात हैं. दिल्ली सरकार ने इन सुविधाओं के लिए महत्वपूर्ण देखभाल करने वाले रोगियों को संदर्भित करने के लिए कहा है.

3 दिनों में लगभग 150 ICU बेड जोड़े 

मंत्रालय ने कहा, “दिल्ली में पिछले 3 दिनों में लगभग 150 ICU बेड जोड़े गए. इसके अलावा, 3652 आईसीयू बिस्तरों की वर्तमान क्षमता को और अधिक बढ़ा दिया जाएगा. शकूर बस्ती रेलवे स्टेशन पर 800 बिस्तरों वाली ट्रेन के डिब्बे कार्यात्मक हो गए हैं. सीएपीएफ के डॉक्टर और पैरामेडिक्स स्टाफ को इन कोचों में तैनात किया गया है.

100 से अधिक निजी अस्पतालों का निरीक्षण 

गृह मंत्रालय ने कहा, “बेड उपयोग और परीक्षण क्षमता का आकलन करने और अतिरिक्त आईसीयू बेड की पहचान करने के लिए एमएचए की 10 बहु-अनुशासनात्मक टीमों ने दिल्ली में 100 से अधिक निजी अस्पतालों का दौरा किया और रिपोर्ट प्रस्तुत की. रिपोर्ट डीजीएचएस में विचाराधीन.” 

एक दिन में 28,708 आरटी-पीसीआर परीक्षण

मंत्रालय ने कहा, “गृह मंत्री अमित शाह की दिल्ली की COVID19 स्थिति पर समीक्षा बैठक के बाद, 28 नवंबर को 28,708 आरटी-पीसीआर परीक्षण आयोजित किए गए. आरटी-पीसीआर परीक्षणों की क्षमता नवंबर के अंत तक 60,000 प्रति दिन तक होने वाली है.” 

निजी अस्पतालों के 80 प्रतिशत आईसीयू बेड अरक्षित 

राजधानी में बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 42 निजी अस्पतालों को उनका कुल ICU/HDU बेड का 80% तत्काल प्रभाव से #COVID19 रोगियों के इलाज के लिए आरक्षित करने का निर्देश दिया है.