Manish sisodia
File Pic

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodiya) ने भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) पर परिवार को मारने का आरोप लगाया है। गुरुवार को सिसोदिया ने एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने लिखा कि, “आज बीजेपी के गुंडे मेरी ग़ैरमौजूदगी में मेरे घर के दरवाज़े तोड़कर अंदर घुस गए और मेरे बीवी बच्चों पर हमला करने की कोशिश की। अमित शाह (Amit Shah) जी आज आप दिल्ली में राजनीति में हार गए तो अब इस तरह से हमें निपटाएँगे?।”

दरअसल, नगर निगम के बकाया को लेकर पिछले चार दिन से तीनो निगमों के महापौर और पार्षद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरना दे रहे हैं। इस धरने को लेकर आप नेता दुर्गेश पाठक का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होरहा है, जिसमें वह भाजपा नेताओं, पार्षदों और महापौर को जान से मारने का की बात कह रहे हैं। 

यह वीडियो सामने आने के बाद भाजपा आप सरकार और मनीष सिसोदिया पर हमलावर है। भाजपा ने यह षड़यंत्र उपमुख्यमंत्री के निर्देश पर किया जाने का आरोप लगाया। इसी को लेकर आज भाजपा कार्यकर्ताओं ने सिसोदिया के घर के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया। 

भाजपा ने किया पलटवार 

मनीष सिसोदिया और आप द्वारा लागए आरोप पर भाजपा ने पलटवार किया है। दिल्ली भाजपा उपाध्यक्ष अशोक गोयल देवराहा ने इन आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए दावा किया कि आप नेता भाजपा के महापौरों और अन्य निगम नेताओं को मारने के ‘षड्यंत्र’ से ध्यान हटाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमने यह स्पष्ट करने के लिए सिसोदिया के आवास के बाहर प्रदर्शन किया कि भाजपा कार्यकर्ता हर प्रकार की चुनौती का जवाब देने में सक्षम हैं।”

छह लोगों को किया गिरफ्तार

मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रदर्शन को लेकर दिल्ली पुलिस ने कहा, “डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के सचिव सी अरविंद की एक शिकायत के आधार पर, दिल्ली पुलिस द्वारा कानून की उचित धाराओं के तहत एक उचित अपराध दर्ज किया गया है और जांच की जा रही है। गेट क्षतिग्रस्त / टूटने के आरोप गलत हैं।” पुलिस ने इस मामले पर छह लोगों को गिरफ्तार किया है

सिसोदिया और दुर्गेश पाठक के खिलाफ मामला दर्ज 

भाजपा की दिल्ली इकाई ने सिसोदिया और आप नेता दुर्गेश पाठक के खिलाफ बुधवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. शिकायत में पार्टी ने आरोप लगाया कि वे भाजपा शासित नगर निगमों के नेताओं की हत्या करवाने की ‘साजिश’ रच रहे हैं।