दिल्ली एम्स में नर्सो की हड़ताल, निदेशक गुलेरिया ने कहा- महामारी के दौरान यह अनुचित

नई दिल्ली: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान नई दिल्ली (All India Institute Of Medical Sciences, New Delhi) की नर्सो ने अपनी विविध मांगों को लेकर हड़ताल का ऐलान कर दिया है। सोमवार को जारी अपने प्रेस नोट में नर्स युनियन (Nurse Union) ने छठे वेतन सहित विविध मांगो को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी है। नर्सो की इस हड़ताल ने एम्स निदेशक  डॉ. रणदीप गुलेरिया (Dr. Randeep Guleriya) ने कहा, “महामारी के दौरान यह अनुचित है, यूनियन को अपनी हड़ताल वापस लेना चाहिए।”

डॉ. गुलेरिया ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि संघ अब हड़ताल पर चला गया है, केवल कुछ महीनों से जब एक टीका समाधान प्रदान करेगा। मैं सभी नर्सों और नर्सिंग अधिकारियों से अपील करता हूं कि वे हड़ताल पर न जाएं और वापस आएं। काम करें और महामारी के माध्यम से हमें मदद करें।”

सरकार और एम्स प्रशासन ने मानी मांग 

एम्स निदेशक ने कहा, “नर्स यूनियन की 23 विविध मांगों को सरकार और एम्स प्रशासन ने मान ली है इन 23 मांगों में उनकी प्रमुख मांग छठे वेतन को लागु कराना है, जिसपर विचार करने का आश्वासन दिया है. इस को लेकर सभी को समझाया गया है। इसके बाद भी तनख्वा बढ़ाने के लिए हड़ताल पर जाना अनुचित है।”