CBSE ने की 1,200 से अधिक केंद्रों पर 10वीं, 12वीं कक्षा के लिए कम्पार्टमेंट परीक्षा आयोजित

नयी दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के अनुसार, कोविड-19 महामारी के मद्देनजर देश भर के 1,268 केंद्रों पर कक्षा 10 और 12 के लिए कंपार्टमेंट परीक्षा मंगलवार से शुरू हो गई। बोर्ड ने 12वीं कक्षा के छात्रों को परीक्षा के लिए उपस्थित होने का भी मौका दिया है, अगर वे कोविड-19 के कारण परीक्षा रद्द होने के बाद वैकल्पिक मूल्यांकन योजना के आधार पर उन्हें दिए गए अंकों से असंतुष्ट हैं।

हालांकि, 10वीं कक्षा के छात्रों को अपने प्रदर्शन में सुधार करने का कोई विकल्प नहीं मिला है। इस वर्ष कंपार्टमेंट परीक्षा के लिए 2.3 लाख से अधिक उम्मीदवार शामिल हो रहे हैं। 10वीं कक्षा के छात्र सामाजिक विज्ञान की परीक्षा में शामिल हुए, जबकि 12वीं कक्षा के लिए कई विषयों की परीक्षाएँ निर्धारित की गई थीं, जिनमें राजनीति विज्ञान, भौतिक विज्ञान, जीव विज्ञान, इतिहास और लेखा शास्त्र शामिल हैं।इस बीच, उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को कहा कि सीबीएसई कंपार्टमेंट परीक्षा के परिणाम शीघ्र घोषित करें और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) यह सुनिश्चित करे कि छात्रों को कॉलेजों में प्रवेश मिल सके। न्यायालय ने कहा कि “ये असाधारण समय हैं”। बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘सभी उम्मीदवार पारदर्शी बोतलों में अपने स्वयं के सैनिटाइज़र और पानी की बोतलों को ला सकेंगे और उन्हें अपने मुंह और नाक को मास्क या कपड़े से ढंकना होगा।

छात्रों को केवल उनके होम स्कूल में केंद्र आवंटित किया गया था जब तक कि उन्होंने स्थान परिवर्तन के लिए अनुरोध नहीं दिया हो। अधिकारी ने कहा, ‘‘कक्षा 12 के उन छात्रों के लिए वैकल्पिक परीक्षा को भी कम्पार्टमेंट परीक्षा के साथ आयोजित किया जाना है, जो अपने प्रदर्शन में सुधार करना चाहते हैं, जिनके परिणाम मूल्यांकन योजना के आधार पर घोषित किये गए हैं। इन वैकल्पिक परीक्षाओं में शामिल उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त किए गए अंकों को अंतिम माना जाएगा, जिन्होंने इन परीक्षाओं में भाग लेने का विकल्प चुना है।” महामारी को देखते हुए रद्द कर दिए गए बोर्ड परीक्षा के परिणाम जुलाई में एक वैकल्पिक मूल्यांकन योजना के आधार पर घोषित किए गए थे। (एजेंसी)