भारत शिक्षा का वैश्विक केंद्र बन रहा : शिक्षामंत्री

नयी दिल्ली. केंद्रीय शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ (Ramesh Pokhriyal ‘Nishank) ने बृहस्पतिवार को कहा कि जल्द ही दुनिया भारत में अध्ययन करने आएगी। उन्होंने यह बात भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी)खड़गपुर (Indian Institute of Technology) (IIT), Kharagpur में अंतरराष्ट्रीय आगंतुक शिक्षकों के रहने के लिए बने आवासीय परिसर के उद्घाटन के मौके पर कही। निशंक ने कहा, ‘‘ भारत प्रमुखता से शिक्षा का वैश्विक केंद्र बन रहा है और राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 यह सुनिश्चित कर रही है कि अकादमिक सदस्य भारत में पढ़ेंगे और भारत में रहेंगे। जल्द ही, दुनिया भारत में अध्ययन करने आएगी।”

उल्लेखनीय है कि आईआईटी खड़गपुर में बने एपीजे अब्दुल कलाम अंतरराष्ट्रीय आगंतुक आवासीय परिसर में पूरी तरह से आधुनिक सुख सुविधाओं से सुसज्जित स्टूडियो अपार्टमेंट बनाए गए हैं जो पूर्णकालिक और अल्पकालिक अंतरराष्ट्रीय शिक्षकों को निवास की सुविधा प्रदान करेंगे। आईआईटी खड़गपुर में 12 नियमित विदेशी शिक्षकों के साथ संस्थान में ग्लोबल इनिशिएटिव ऑफ एकेडमिक वर्क (जीआईएन) के तहत संचालित कई अल्कालिक पाठ्यक्रमों के लिए विदेशी विश्वविद्यालयें से भी शिक्षक आते हैं।(एजेंसी)