JEE Advanced परीक्षा के टॉपर ने कहा, जारी रखूंगा MIT से पढ़ाई

पुणे. संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई)-एडवांस्ड (Joint Entrance Exam (JEE) Advanced) में शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले पुणे के चिराग फालोर (Chirag Falor)ने कहा है कि वह अमेरिका के मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) (Massachusetts Institute of Technology) (MIT)से पढ़ाई जारी रखेंगे। जेईई-एडवांस्ड के आज घोषित हुए परिणाम में फालोर ने शीर्ष स्थान हासिल किया है। फालोर ने मार्च में एमआईटी में दाखिला लिया था, लेकिन कोरोना वायरस से उत्पन्न महामारी और इसकी वजह से लागू लॉकडाउन की वजह से वह यहां से ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। जेईई-एडवांस्ड का परिणाम घोषित होने के बाद फालोर ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘मैं एमआईटी में पहले ही ऑनलाइन कक्षाओ में शामिल हो चुका हूं और इसे जारी रखूंगा।”

जेईई-एडवांस्ड परीक्षा के लिए कुल 1.6 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था और 1.5 लाख छात्र इसमें शामिल हुए थे। परीक्षा में 6,707 लड़कियों समेत 43,000 से ज्यादा प्रतिभागियों ने सफलता हासिल की। फालोर को जहां 396 में से 352 अंक हासिल हुए, वहीं विजयवाड़ा के गांगुला भुवन रेड्डी दूसरे स्थान पर और वैभव राज तीसरे स्थान पर रहे। लड़कियों में कनिष्का मित्तल अव्वल रहीं जिन्होंने 17वीं रैंक हासिल की। उन्होंने 396 में से 315 अंक हासिल किए। फालोर ने कहा कि भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) में सीट प्राप्त करना सबसे मुश्किल काम था और उन्होंने इसके लिए चार साल तैयारी की क्योंकि यह वैसे तो एक परीक्षा है, लेकिन इसका पाठ्यक्रम काफी व्यापक है।

वहीं, एमआईटी अभ्यर्थी का आकलन उसके व्यक्तित्व और क्षमता के आधार पर करता है और यह देखता है कि अभ्यर्थी अवसरों से कितना लाभ उठा सकता है। फालोर ने कहा, ‘‘रात में मैं एमआईटी में ऑनलाइन कक्षाओं में शामिल हेाता था और दिन में आईआईटी परीक्षा की तैयारी करता था।” उन्होंने कहा कि वह अगले साल जनवरी में अमेरिका जाने की योजना बना रहा हैं। फालोर को 2020 का बाल शक्ति पुरस्कार मिला था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी तारीफ की थी। (एजेंसी)